चौतरफा हमलों में घिरी सीएम ममता, विपक्ष ने लॉन्च किया 'भय पेयेछे ममता' अभियान

एक तरफ भारत को कोरोना वायरस ने बुरी तरफ अपनी चपेट में ले लिया है. वही, दूसरी तरफ तृणमूल और भाजपा के बीच सियासी घमासान धीरे-धीरे तेज होता जा रहा है. भाजपा की बंगाल इकाई ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला तेज कर दिया है. भाजपा ने कोरोना को नियंत्रण करने में विफल रहने का आरोप लगाते हुए 'भय पेयेछे ममता' यानी डर गई हैं ममता नाम से अभियान छेड़ दिया है. राज्य के भाजपा नेताओं से लेकर कार्यकर्ताओं तक सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री की अनुपस्थिति पर सवाल खड़े कर रहे हैं और मिसिंग ममता की टैगलाइन के साथ मुख्यमंत्री की तस्वीर भी पोस्ट कर रहे हैं.

OMG! न्यूयॉर्क में 5 वर्ष के बच्चे की मौत बनी रहस्य, जानें क्या है पूरी बात

इस मामले को लेकर बंगाल भाजपा के प्रभारी व केंद्रीय नेता कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया कि पीपीई के लिए डॉक्टर रो रहे हैं. शव के साथ पड़े मरीज पड़े हैं. प्रवासी श्रमिकों को राज्य छोड़ने की अनुमति नहीं है. प्रवासी बंगाल वासियों को घर वापस नहीं आने दिया गया. अस्पताल मरीजों का भर्ती नहीं ले रहे हैं. पुलिस पर हमला हो रहा है. ममता सरकार पूर्ण आपदा बन गई है. 

WHO ने दी चेतावनी, आर्थिक गतिविधियों से बिगड़ सकते हैं हालात

दूसरी ओर भाजपा नेता मुकुल रॉय ने ट्विटर पर लिखा ममता बनर्जी कहां हैं? कोविड-19 मामले बढ़ रहे हैं. जांच नहीं हो रही है. अन्य राज्यों से बंगाली प्रवासी मजदूर को वापस लाने की अनुमति नहीं दे रहे हैं? इसके बाद भाजपा सांसद अर्जुन सिंह से लेकर लॉकेट चटर्जी तक ने ट्विटर पर कई सवाल उठाए और गंभीर आरोप लगाए. वहीं भाजपा के आइटी प्रकोष्ठ के प्रभारी अमित मालवीय ने ट्वीट किया बंगाल के लोग अपने स्वास्थ्य मंत्री की तलाश में हैं, जो मुख्यमंत्री भी हैं, क्योंकि कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. डॉक्टर विरोध कर रहे हैं. परीक्षण कम हो रहे हैं और आंकड़े पूरी तरह अविश्वसनीय हैं. कृपया सहायता कीजिए.

यह दिग्गज माकपा नेता है स्वस्थ, फेल हुई सारी अफवाहें

इस टैक्स में राज्य सरकार ने दी 5 प्रतिशत की छूट

अफगानिस्तान में आर्थिक मांग को लेकर चल रहे प्रदर्शन के बीच हुई गोलीबारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -