अलवर मॉब लिंचिंग : 4 पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज

नई दिल्ली : देश में मॉब लिंचिंग बहुत बड़ा मुद्दा बन गया है. जिसके चलते हर आमों - ख़ास इस पर अपनी नज़र बनाए हुए है. इस कारण सरकार भी अब इस मुद्दे में कोई भी लापरवाही नहीं बरत रही है. जिसके चलते राजस्‍थान के अलवर जिले के रामगढ़ में रकबर खान की मॉब लिंचिंग मामले में तीन दिन बाद राजस्‍थान सरकार ने अपनी लापरवाही मान ली है. 

अलवर मॉब लिंचिंग मामला : भाजपा ने राहुल गांधी को बताया 'नफरत का सौदागर'

अलवर मॉब लिंचिंग मामले में रामगढ़ पुलिस की भूमिका पर सवाल उठने के बाद आखिरकार उस पर गाज गिर ही गई. मामले में पुलिस वालों पर एक्शन लिया गया है.  4 पुलिसकर्मियों पर एक्शन हुआ है. इसके तहत थाना इंचार्ज इंस्पेक्टर सुभाष सुभाष शर्मा समेत अन्य तीन पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही की गई है. 

अलवर मॉब लिंचिंग के लिए मोदी जिम्मेदार : राहुल गांधी

मामले को बढ़ता देख गृहमंत्री के निर्देशों के बाद तत्काल उच्चाधिकारियों की कमेटी गठित कर उसे जांच के लिए अलवर के रामगढ़ भेजा गया. कमेटी में स्पेशल डीजीपी एनआरके रेड्डी, एडिशनल डीजीपी पीके सिंह, एडिशनल डीजीपी हेमंत प्रियदर्शी और आईजी महेंद्र चौधरी शामिल हैं. इन सबके बीच पुलिस के आला अधिकारियों ने आज घटनास्‍थल का दौरा भी किया और पूरे घटना की जानकारी ली. पुलिस टीम ने अपनी पूरी रिपोर्ट राजस्थान के डीजीपी को दे दी है.

 ख़बरें और भी...

बीफ ना खाए रुक जाएगी मॉब लिंचिंग-RSS नेता

भूलकर भी ना बनाएं ऐसे नेचर वाली गर्लफ्रेंड

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -