11,000 के लिए मार दिया गया था पादरी सुरीन को हत्यारे ने

खूंटी : राउरकेला में 5 मई की रात को हुई पादरी एबी सुरीन की हत्या के मामले में खूंटी पुलिस की मदद से हत्यारों का पता लगा लिया है। पुलिस ने आरोपी मोहम्मद हैदर को उसके आवास से बीती रात को गिरफ्तार किया। उसके घर से पुलिस ने वारदात के समय पहने गए जींस-टी-शर्ट भी बरामद किया।

एसपी अनीस गुप्ता ने बताया कि हत्या के बाद ही तय हो गया था कि हत्यारे का संबंध खूंटी से ही है। एसपी ने हत्या की गुत्थी को सुलझाने के लिए एकटीम बनाई। शुक्रवार की सुबह पुलिस ने हैदर को गिरफ्तार कर लिया। सुरीन के शव के पास से उनका मोबाइल पुलिस को मिला था।

जिसे हत्यारों ने तोड़कर फेंक दिया था। टूटे मोबाइल से ही पुलिस ने दो माह का कॉल डिटेल निकाला। जांच के दौरान पता चला कि 5 मई को सुरीन के फोन पर मोबाइल नंबर 703378063...से दोपहर 12.20 बजे दो कॉल आया था। इसी नंबर से दो माह में एबी सुरीन के मोबाइल नंबर 9572652107 पर 40 बार कॉल किया गया था।

इसके बाद से ही पुलिस को इस नंबर पर शक हो गया। इसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज भी खंगाला। नंबर की जांच से पुलिस को पता चला कि यह नंबर टॉर्च मरम्मत करने वाले हैदर की है। इसके बाद पुलिस ने उससे सख्ती की तो उसने खुद ही सारा गुनाह कबूल लिया।

5 मई की दोपहर 12.20 बजे मो हैदर ने एबी सुरीन को खूंटी से हटिया रेलवे स्टेशन यह कह कर बुलाया कि राउरकेला में उसके परिचित रहते हैं। उनसे पैसे लेकर उन्हें वापस कर देगा। फिर पादरी एबी सुरीन ने दो टिकट कटाए व दोनों तपस्विनी एक्सप्रेस से शाम में राउरकेला पहुंचे।

वो रात के 10 बजे सुरीन को रिश्तेदार के घर ले जाने के बहाने ऑटो में बिठाया और फिर ऑटो से उतरने के बाद हैदर ने मौका देख दावली से सुरीन पर वार कर दिया। हत्या के बाद हैदर रातभर स्टेशन पर घूमता रहा। हैदर को सुरीन ने 10 हजार रुपए ब्याज पर दिए थे। इसी को लौटाने के लिए सुरीन हैदर पर दबाव बना रही थी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -