चीन की खदान में जहरीली गैस के रिसाव ने की 16 लोगों की जान

चीन की खदान में जहरीली गैस के रिसाव ने की 16 लोगों की जान

बीजिंग: चीन की एक खदान में जहरीली गैस के चलते रविवार को 16 लोगों की मौत हो गई है।  मिली जानकारी के अनुसार दक्षिण-पश्चिमी चीन में कोयले की एक खदान में रविवार को कार्बन मोनॉक्साइड का स्तर अत्यधिक बढ़ जाने की वजह से 16 लोगों की जान चली गई। चोंगचिंग नगर प्रशासन ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर कहा कि खदान में कुल 17 लोग फंस गए थे। इस घटना में सिर्फ एक शख्स बच पाया है जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बाकी के लोगों को तमाम प्रयासों के बाद भी नहीं बचाया जा सका।

बेल्ट जलने से बढ़ गया था गैस का स्तर: जंहा इस बात का पता चला है कि खदान में एक कन्वेयर बेल्ट के जलने से कार्बन मोनॉक्साइड गैस का स्तर बहुत ही अधिक बढ़ गया था। हालांकि खबर में यह साफ नहीं किया गया कि यह बेल्ट किस वस्तु से बनी हई थी। वहीँ यह भी कहा जा रहा है कोयले की भूमिगत खदान से कोयला बाहर निकालने के लिए रबर की बेल्ट का भी उपयोग होता है। खबर में जिला प्रशासन के हवाले से बोला गया है कि किजियांग जिले में स्थित यह खदान स्थानीय ऊर्जा कंपनी से संबद्ध है। चीन में इस तरह की घटना हमेशा ही होती  रहती है, और वहां पर खदानों में सेफ्टी का रिकॉर्ड बहुत ही खराब है।

चीन की खदानों में ऐसे हादसे आम बात: मिली जानकारी के अनुसार बीते वर्ष  दिसंबर चीन की एक खदान में कोयले और गैस के चलते हुए धमाके में 14 मजदूरों की मौत हो गई थी। यह घटना दक्षिणी-पश्चिमी गुइजू प्रांत में हुी थी। जिससे पूर्व दिसंबर 2018 में भी चोंगचिंग में ही एक खदान में शाफ्ट के गिरने के चलते 7 मजदूर मारे गए थे। 2018 के ही अक्टूबर में शैनदोंग राज्य की एक खदान में 21 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई थी। इस घटना में सिर्फ एक मजदूर ही जिंदा बच पाया था। इस तरह चीन की खदानों में ऐसे हादसे अक्सर होते रहते हैं, और सुरक्षा के सही इंतजाम न होने के चलते मजदूरों को अपनी जान गंवानी पड़ती है।

बॉम्बे हाईकोर्ट का आदेश- जुर्म नहीं है देहव्यापार, हर किसी को अपना पेशा चुनने का अधिकार

बिहार चुनाव से पहले अशोक चौधरी को मिली बड़ी जिम्मेदारी, नितीश कुमार ने सौंपा ये जिम्मा

मप्र उपचुनाव: कांग्रेस ने जारी की दूसरी सूची, 15 उम्मीदवारों के नाम का किया ऐलान