सिविल सेवा दिवस : मोदी की अफसरों को तनाव पूर्ण जिंदगी से बचने की सलाह

Apr 21 2015 08:57 PM
सिविल सेवा दिवस : मोदी की अफसरों को तनाव पूर्ण जिंदगी से बचने की सलाह
style="text-align: justify;">नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिविल सेवा दिवस के अवसर पर सिविल सेवा के अधिकारियों को संबोधित किया। समारोह में मोदी ने अपने संबोधन में अफसरों को तनाव पूर्ण जिंदगी से बचने की सलाह दी। मोदी ने कहा कि यदि आपको देश को चलना हो तो आप तनाव से भरे हुए जीवन में कुछ भी हासिल नहीं कर सकते। 

दिल्ली के विज्ञान भवन में प्रधानमंत्री ने सिविल सेवा में उत्कृष्ट योगदान देने वाले अफसरों को पुरस्कार दिया। अफसरों को संबोधित करते हुए PM ने कहा कि अच्छे समय की शुरूआत हुई है। हमें अच्छे प्रोजेक्ट पर ध्यान देना चाहिए। कर्मचारियों के भविष्य की चिंता जताते हुए पीएम ने कहा कि मेरी कोशिश है कि कर्मचारी आयोग बने। अच्छे अफसरों को प्रोत्साहित करने के लिए पुरस्कार देने चाहिए। 

अफसरों को सलाह देते हुए उन्होंने कहा कि अफसरों को रोबोटिक नहीं होना चाहिए। विकास का ऐसा रास्ता तैयार करना चाहिए जिसमें अमीर-गरीब की खाई दूर हो। उनकी तनावपूर्ण जिंदगी को देखते हुए प्रधानमंत्री ने उनसे पूछा कि परिवार के साथ क्या अफसर क्वालिटी टाइम बिताते हैं। 

तनावपूर्ण जिंदगी से कुछ हासिल नहीं हो सकता, इसलिए तनावपूर्ण जिंदगी से बचें और गुणवतापूर्ण समय व्यतीत करें। सरदार पटेल का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने भारत में एकीकरण के लिए काम किया। एकीकरण का सिद्धांत एक-दूसरे को करीब लाता है। आज हमारे देश को भी सामाजिक-आर्थिक एकीकरण की आवश्यकता है।