भूख हड़ताल पर बैठी PM मोदी की पत्नी, सकते में आया प्रशासन

Feb 13 2016 02:10 PM
भूख हड़ताल पर बैठी PM मोदी की पत्नी, सकते में आया प्रशासन

मुंबई : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी कोई पब्लिक फीगर नहीं है, वो एक स्कूल टीचर है। आम तौर पर वो आरटीआई मामलों को लेकर ही चर्चा में रहती है। लेकिन अब उन्होने अपने कदम से सभी को हैरानी में डाल दिया है। मुंबई में झुग्गीवालों के अधिकारों के लिए वो शुक्रवार को दिनभर अनशन पर बैठी रही। आजाद मैदान में भूख हड़ताल पर बैठी जसोदाबेन कि मांग है कि मानसून के मौसम में सरकार को झुग्गी झोपड़ी नहीं तोड़नी चाहिए।

बरसात के मौसम में घर उजड़ने से लोगों को बेहद परेशानी होती है। वह सामाजिक कार्यकर्ता पीटर पॉल की एनजीओ "गुड सामरी मिशन" की ओर से आयोजित एक दिवसीय उपवास कार्यक्रम में हिस्सा ले रही थीं।

जशोदाबेन ने कहा कि मैं मिशन के काम का समर्थन करने के लिए यहां आई हूूं। मौनसून में झुग्गी झोपड़ियों को तोड़ना उन पर अत्याचार है, जो झोपड़ियों में रहने को विवश है। जशोदाबेन इस इनजीओ के साथ पिछले एक साल से जुड़ी हुई है। अधिकारियों ने बताया कि इस संबंध में उन्हें किसी प्रकार की पूर्व सूचना नहीं थी।

जशोदाबेन के साथ 5 एनएसजी कमांडो भी है। कमांडो के साथ जब वो आजाद मैदान पहुंची तो प्रशासन भी उन्हें देखकर चौंक गई। जशोदाबेन के आने के बाद प्रशासन ने तुरंत सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ाया। बता दें कि शनिवार को पीएम भी मुंबई में होंगे, जहां वो मेक इन इंडिया सप्ताह का उदूघाटन करेंगे।