राहत पैकेज की पांचवी किश्त पर बोले पीएम मोदी, कहा- गाँव की अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करेंगे ये उपाय

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी और इसकी रोकथाम के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन की मार से इकॉनमी को उबारने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज की पांचवीं किस्त की रविवार को घोषणा की गई. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज पांचवीं किश्त के बारे में जानकारी दी. पांचवीं किश्त में वित्त मंत्री द्वारा सुझाए गए उपायों की पीएम नरेंद्र मोदी ने जमकर प्रशंसा की है. 

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा कि इन उपायों से गाँव की इकॉनमी को पुनर्जीवित करने में मदद मिलेगी. सरकार ने कोरोना संकट के बीच उद्योग को राहत के लिए कर्ज चूक के नए मामलों में दिवाला कार्रवाई पर एक वर्ष के लिए रोक लगा दी है. इसके अलावा अपने घरों को लौट रहे प्रवासी श्रमिकों के रोजगार के लिए मनरेगा के तहत 40,000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त आवंटन किया गया है.

इन उपायों के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, 'आज FM द्वारा घोषित किए गए उपायों और सुधारों का हमारे स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्रों पर परिवर्तनकारी प्रभाव पड़ेगा। वे उद्यमिता को बढ़ावा देंगे, सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों की मदद करेंगे और गाँव की अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करेंगे। इससे राज्यों के सुधार प्रक्षेपवक्र को भी गति मिलेगी।'

वित्त मंत्री ने भारतीय कंपनियों के लिए नियम में किया बड़ा बदलाव

आखिर क्यों वारेन बफेट ने बेचे एयरलाइन कंपनियों के शेयर ?

इस राज्य में काल बना भयानक तूफान, कई लोग हुए घायल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -