1965 के युद्ध की स्वर्णजयंति पर PM मोदी ने दी युद्ध वीरों को श्रद्धांजलि

Sep 22 2015 09:49 AM
1965 के युद्ध की स्वर्णजयंति पर PM मोदी ने दी युद्ध वीरों को श्रद्धांजलि

नई दिल्ली : भारत और पाकिस्तान के बीच 1965 में कश्मीर के सियालकोट में हुए युद्ध की विजय का 50वां समारोह आज भारतीय सेना द्वारा मनाया जा रहा है। इस दौरान भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय सेना का हौसला बढ़ाने के लिए पहुंचे। उन्होंने युद्ध के शहीदों को स्मरण किया और श्रद्धांजलि दी। यही नहीं अब तक देश के लिए प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों और वीरों को उन्होंने स्मरण किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सेना के तीनों अंगों के सैन्य नायकों से मिले।

सैन्य प्रमुखों ने उन्हें सलामी दी और हाथ मिलाकर उनका अभिवादन किया। इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति को भी उन्होंने नमन किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज इंडिया गेट पहुंचे। जहां भारतीय सेना द्वारा उनका भव्य स्वागत किया गया। दरअसल 1965 में पाकिस्तान के विरूद्ध भारत ने इस युद्ध में अदम्य वीरता और साहस का परिचय देकर पाकिस्तान के दांत खट्टे कर दिए। पाकिस्तान ने यह युद्ध तत्कालीन विदेश मंत्री जुल्फीकार अली भुट्टो के कहने पर लड़ा था।

भारतीय सेना ने इसमें जांबाजी का परिचय दिया था। पाकिस्तान ने इस युद्ध में अमेरिका से प्राप्त पैटन टेंकों का प्रयोग किया लेकिन भारत पर विजय प्राप्त नहीं कर पाए। इस दौरान राष्ट्रीय समाचार चैनलों पर पूर्व सैनिकों ने युद्ध से जुड़े अपने अनुभव साझा किए।