प्रत्येक हिंदुस्तानी को मिलेगी एक यूनिक हेल्थ ID, मोदी सरकार ने बनाया ये शानदार प्लान

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी अगले सप्ताह एक बड़ी योजना शुरु करने वाले हैं. इसमें प्रत्येक भारतीय को यूनिक हेल्थ ID दी जाएगी. पीएम मोदी 27 सितंबर को प्रधानमंत्री डिजिटल हेल्थ मिशन की शुरुआत करेंगे. स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने इस संबंध में जानकारी दी है.बता दें कि यूनीक हेल्थ आईडी में संबंधित व्यक्ति का पूरा हेल्थ रिकॉर्ड होगा.

जानकारी के अनुसार, जो यूनिक आईडी मिलेगी, वह लोगों के आधार कार्ड और मोबाइल नंबर की सहायता से बनेगी. PH-DHM का प्रमुख उद्देश्य भारत की स्वास्थ्य सेवा प्रणाली को और बेहतर करना है. इसे हेल्थकेयर की आवश्यकताओं का वन-स्टॉप सॉल्यूशन बनाने की तैयारी है. इससे हेल्थकेयर सर्विस देने वाले संस्थानों तक पहुंचना अधिक आसान होगा और उनकी जवाबदेही भी बढ़ेगी. यूनिक हेल्थ आईडी एक 14 अंकों का नंबर रैंडम तरीके से जनरेट होगा. इसकी मदद से संबंधित व्यक्ति का हेल्थ रिकॉर्ड रखा जा सकता है.

हालाँकि, यह आवश्यक नहीं कि यह आधार कार्ड से ही बनाई जाए, केवल फोन नंबर की सहायता से भी यूनिक आईडी बनाई जा सकेगी. आधार को यूनिक हेल्थ आईडी के रूप में उपयोग क्यों नहीं किया जा सकता? इसका जवाब देते हुए मंत्रालय पहले ही बता चुका है कि आधार को केवल उन जगहों पर लिंक करना आवश्यक है, जहां डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर की बात हो. इसका कहीं और उपयोग नहीं किया जा सकता. 

रायमोना नेशनल पार्क के 57 अवैैध शिकारियों ने किया आत्मसमर्पण, असम सरकार ने दी आर्थिक मदद

वरिष्ठ IPS पवन जैन को आज मिलेगा INVC अंतर्राष्ट्रीय सम्मान, जानिए उनके अहम योगदान

टीडीपी के प्रवक्ता पिल्ली माणिक्य राव ने सत्तारूढ़ YSRCP पर लगाए गंभीर आरोप

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -