संयुक्त राष्ट्र के इस अहम कार्यक्रम को सम्बोधित करेंगे पीएम मोदी, 14 जून को होगा सम्बोधन

नई दिल्ली: पीएम नरेन्द्र मोदी अगले सप्ताह यूनाइटेड नेशंस (UN) में मरुस्थलीकरण, भूमि अवक्रमण और सूखे पर उच्च स्तरीय वर्चुअल कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। इस कार्यक्रम का आयोजन संयुक्त राष्ट्र महासभा के प्रमुख कर रहे हैं। महासभा अध्यक्ष के कार्यालय द्वारा जारी किए गए एक मीडिया परामर्श के मुताबिक, 'कांफ्रेंस ऑफ द पार्टीज टू द यूनाइटेड नेशन्स कन्वेन्शन टू कॉम्बैट डेजर्टिफिकेशन' (UNCDC COP) के 14वें सत्र के अध्यक्ष मोदी महासभा के 75वें सत्र के अध्यक्ष वोल्कन बोज्किर द्वारा आयोजित इस उच्च स्तरीय कार्यक्रम को 14 जून को संबोधित करने वाले हैं।

परामर्श में कहा गया है कि, ''भूमि हमारे समाज की बुनियाद है और वैश्विक खाद्य सुरक्षा और पर्यावरणीय स्वास्थ्य, भुखमरी खत्म करने, गरीबी उन्मूलन और किफायती ऊर्जा की आधारशिला है। यह सतत विकास के लिए 2030 के संपूर्ण एजेंडे की सफलता को रेखांकित करता है।'' बता दें कि पीएम मोदी ने सितंबर 2019 में नयी दिल्ली में यूएनसीसीडी सीओपी के उच्च स्तरीय 14वें सत्र का आगाज़ किया था। इस कांफ्रेंस ने दिल्ली घोषणा को मंजूर किया था, जिसमें विभिन्न पक्षों को मरुस्थलीकरण, भूमि अवक्रमण और सूखे से निपटने के मकसद वाले प्रोजेक्ट्स के संदर्भ में ग्रामीण और शहरी समुदायों की ऊर्जा तक पहुंच बढ़ाने के लिए प्रेरित किया गया।

जलवायु संबंधी कारकों अथवा मानवीय हस्तक्षेप की वजह से भूमि और मृदा की उत्पादक क्षमता में कमी आना भूमि अवक्रमण कहलाता है। मरुस्थलीकरण ज़मीन का सूखना तथा बंजर होना है, जो शुष्क और अर्द्ध-नम क्षेत्रों में विभिन्न कारकों के कारण होता है जिनमें विविध जलवायु और मानवीय गतिविधियां भी शामिल है।

कुलभूषण जाधव मामले में नरम पड़ा पाक, सजा के खिलाफ कर सकेंगे अपील

101 रुपए प्रति लीटर हुआ पेट्रोल, जानिए क्या है डीजल का भाव

अंतरराष्‍ट्रीय अदालत के आगे पाकिस्‍तान ने टेके अपने घुटने, अब भारत हो सकेगी कुलभूषण जाधव की वापसी?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -