व्यापमं घोटाले पर गुस्साए मोदी,अंनत कुमार को सौपा जांच का भार

Jul 09 2015 09:57 AM
व्यापमं घोटाले पर गुस्साए मोदी,अंनत कुमार को सौपा जांच का भार

नई दिल्ली : व्यापमं घोटाला खूनी घोटाले में तब्दील हो गया है. एक के बाद एक मौत से व्यापमं घोटाला मीडिया और सियासत में गरमाया हुआ है. बीजेपी सरकार सवालो के घेरे में है, ऐसे में पार्टी की साख में आई कमी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काफी नाराज दिखाई दे रहे है. सूत्रों के मुताबिक, उन्होंने केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री अनंत कुमार को व्यापमं घोटाले की जांच का भार सौपा है. उधर, इस घोटाले की सीबीआई जांच की मांग वाली याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई करेगा. जबलपुर हाईकोर्ट ने सीबीआई जांच की राज्य सरकार के अनुरोध पर बुधवार को होने वाली सुनवाई को नामंजूर कर दिया है. हाल ही में खबर आई थी कि घोटाले में एक और गवाह की मौत हो गयी. गवाह एक सिपाही था.

शिवराज और अनंत कुमार ने की मीटिंग 
अनंत कुमार ने अपने घर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ एक मीटिंग की. मध्य प्रदेश के बीजेपी अध्यक्ष नंदकुमार चौहान को भी इस बैठक में समिल्लित किया गया. शिवराज सिंह चौहान उस समय पुणे में थे. वे विशेष विमान से तत्काल दिल्ली पहुंचे. बैठक में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे भी शामिल हुए थे. सूत्रों के अनुसार, शिवराज ने व्यापमं मामले में केंद्र सरकार के समक्ष अपना स्पष्टीकरण दिया है. मध्य प्रदेश के कई मंत्री इस दौरान दिल्ली में जमे हुए हैं और सीनियर नेताओं से संपर्क बना रहे है

व्यापमं घोटाले में कॉन्स्टेबल भर्ती गड़बड़ी मामले में गवाह बने एक सिपाही की लंबी बीमारी के चलते देहांत हो गया. गवाहों और व्यापमं से जुड़े लोगो की सिलसिलेवार मौत ने राज्य सरकार के सामने प्रश्नचिन्ह खड़ा किया है. ऐसे में मोदी ने पार्टी की किरकिरी होने पर नाराज़गी जाहिर की है. इस मामले की जांच पड़ताल में तेजी दिखाने की भी बात नमो ने कही है.