दिल्ली में बैठे-बैठे पीएम ने श्रीलंका में किया स्टेडियम का उद्घाटन

नई दिल्ली। गुजरात में मुख्यमंत्री रहने के कार्यकाल से ही पीएम नरेंद्र मोदी के बारे में सभी जानते है कि वो तकनीक का सही सदुपयोग करने का हुनर रखते है। एक बार फिर से उन्होने इस बात का सबूत दिया है। भारत की मदद से श्रीलंका में बनाए गए स्टेडियम का उद्घाटन श्रीलंकाई राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना और मोदी ने मिलकर किया।

कार्यक्रम का आयोजन जाफना में किया गया। लेकिन मोदी दिल्ली में ही बैठे-बैठे श्रीलंका में स्टेडियम का उद्घाटन कर रहे थे। पीएम ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अपने संबोधन में कहा कि बीते वर्ष जब मैं जाफना में था तब लोगों से अथाह प्रेम और लगाव मिला, जो आज भी मेरे जेहन में ताजा है।

मोदी ने कहा कि दुराईअप्पाह स्टेडियम केवल ईंट-पत्थर की इमारत नहीं है बल्कि आर्थिक विकास का सूचक है। दोनों देशों के संबंध केवल दो सरकारों के बीच तक ही सीमित नहीं है। यह हमारी समृद्ध संस्कृति, कला और भाषा में बसते हैं। पीएम ने कहा कि श्रीलंका के विकास पथ पर भारत उसके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलेगा।

जाफना से श्रीलंकाई राष्ट्रपति ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक मौका है, जो दोनों देशों के रिश्ते को और मजबूती देगा। मैं भारत सरकार का स्टेडियम के निर्माण में आर्थिक मदद देने के लिए धन्यवाद करता हूं। गौरतलब है कि स्टेडियम को दोबारा बनाने में भारत ने 7 करोड़ की आर्थिक मदद दी है। इस स्टेडियम में अतंराराष्ट्रीय योग दिवस भी मनाया जाएगा।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -