तीन पार्टियों ने भेजी एक देश-एक चुनाव को लेकर अपनी राय, अब पीएम बनाएंगे सुझाव के लिए कमेटी

Jun 20 2019 10:21 AM
तीन पार्टियों ने भेजी एक देश-एक चुनाव को लेकर अपनी राय, अब पीएम बनाएंगे सुझाव के लिए कमेटी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को 'एक देश, एक चुनाव' मुद्दे पर राजनीतिक दलों के अध्यक्षों की बैठक हुई। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि बैठक में 40 पार्टियों को न्योता भेजा था, जिसमें 21 पार्टी के अध्यक्ष बैठक में शामिल हुए। तीन पार्टियों ने इस मुद्दे पर अपनी राय लिखित में भेजी है। प्रधानमंत्री मोदी इस मुद्दे पर सुझाव देने के लिए एक कमेटी बनाएंगे।

कांग्रेस से गठबंधन पर भावुक हुए कुमारस्वामी, कहा- 'हर रोज दर्द से गुजर रहा हूं'

कई दलों के नेताओं ने किया समर्थन  

जानकारी के मुताबिक राजनाथ सिंह ने कहा कि बैठक में शामिल होने वाले ज्यादातर दलों ने इस मुद्दे का समर्थन किया। माकपा-भाकपा की राय अलग है, लेकिन उन्होंने इसका विरोध नहीं किया। उधर, बीजद नेता और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि उनकी पार्टी 'एक देश, एक चुनाव' का समर्थन करती है। बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राकांपा प्रमुख शरद पवार, शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर बादल, बीजद प्रमुख नवीन पटनायक, पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती, वाइएसआर के जगन मोहन रेड्डी भी शामिल हुए।

शिवसेना का 53वां स्थापना दिवस, महाराष्ट के अगले सीएम को लेकर सियासत तेज

इसी के साथ कांग्रेस, सपा, शिवसेना, बसपा, द्रमुक, तेदेपा और तृणमूल का कोई भी नेता बैठक में शामिल नहीं हुआ। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल चीफ ममता बनर्जी, बसपा प्रमुख मायावती ने भी बैठक में शामिल होने से पहले ही इनकार कर दिया था। लेफ्ट नेता सीताराम येचुरी और डी राजा मोदी की बुलाई इस बैठक में शामिल हुए, लेकिन उन्होंने 'एक देश, एक चुनाव' के मुद्दे का विरोध किया।

राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात कर महबूबा मुफ्ती ने की राज्य के हालातों पर चर्चा

पीएम मोदी ने बुलाई 'एक देश एक चुनाव' को लेकर सर्वदलीय बैठक कई पार्टी के नेता नदारद

लोकसभा में मंत्री ने दिया ऐसा भाषण, मोदी-राहुल-सोनिया ने खूब लगाए ठहाके