IIT गुवाहाटी के 22वें दीक्षांत समारोह पर PM मोदी ने छात्रों के लिए कही ये बात

IIT गुवाहाटी के 22वें दीक्षांत समारोह पर PM मोदी ने छात्रों के लिए कही ये बात

गुवाहाटी: मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनकी सरकार की न्यू एजुकेशन पॉलिसी आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में अहम किरदार निभाएगी तथा इंडियन स्टूडेंट्स को वर्ल्ड लेवल पर और अधिक अवसर प्रदान करवाने के लिए एजुकेशन सेक्टर को खोलेगी। साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये आईआईटी के 22वें दीक्षांत कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि विज्ञान की समझ के साथ ज्ञान सभी दिक्कतों का समाधान है। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा दृढ़ विश्वास है कि आपकी आज की सोच में ही देश का भविष्य निहित है। आपके सपने देश के भविष्य को स्वरूप देंगे। हमें भविष्य के लिए तैयार रहने की आवश्यकता है।’’ 

पीएम ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में एजुकेशन एक अहम घटक है। मोदी ने कहा कि एनईपी को इस प्रकार से तैयार किया गया है कि इससे विद्यार्थियों पर कक्षा में शिक्षण का एवं एग्जाम का बोझ कम होगा तथा यह भारत को आगे बढ़ाने में अहम किरदार निभाएगी। पीएम ने कहा कि एनईपी एजुकेशन क्षेत्र को खोलने की बात करती है। इरादा यह है कि विदेशी विश्वविद्यालयों के परिसर भी भारत में खुलें तथा वैश्विक मौके हमारे विद्यार्थियों को यहीं पर मिलें। इसी के साथ पीएम मोदी ने अपनी बात कही है।

वही दूसरी तरफ देश में जिस गति से COVID-19 वायरस के मामले बढ़ रहे हैं उसी रफ्तार से जांच भी तेज हो गई है। बीते दिन देश में 9 लाख 33 हजार 185 सैंपल टेस्ट किए गए। 21 सितंबर तक देश में 6 करोड़ 53 लाख 25 हजार 779 नमूनों की जांच हो चुकी है। आइसीएमआर ने इसकी जानकारी दी। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के मुताबिक, बीते दिन तक देश में 6 करोड़ 43 लाख 92 हजार से ज्यादा नमूनों की जांच हुई थी। 

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी बोले- अगर सांसद माफ़ी मांग लें तो ख़त्म हो सकता है निलंबन

25 सितम्बर को सरकार के खिलाफ किसानों का हल्ला बोल, करेंगे देशव्यापी आंदोलन

किसानों को सीएम शिवराज ने दी बड़ी सौगात, अब 6000 के बजाय मिलेगी 10 हजार सम्मान निधि