'पीएम मोदी ने वॉर रुकवा दी, लेकिन पेपर लीक नहीं रोक पाए..', NEET मामले पर राहुल गांधी का तंज, दी आंदोलन की चेतावनी

'पीएम मोदी ने वॉर रुकवा दी, लेकिन पेपर लीक नहीं रोक पाए..', NEET मामले पर राहुल गांधी का तंज, दी आंदोलन की चेतावनी
Share:

नई दिल्ली: राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) में अनियमितताओं के आरोपों के बीच वरिष्ठ कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि बड़े पैमाने पर पेपर लीक के कारण युवाओं का भविष्य खतरे में है। दिल्ली स्थित अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में रायबरेली के सांसद ने कहा कि, "ऐसा कहा जा रहा था कि मोदी जी ने रूस- यूक्रेन युद्ध को रोक दिया। लेकिन कुछ कारणों से नरेंद्र मोदी भारत में पेपर लीक को रोक नहीं पाए हैं या रोकना नहीं चाहते हैं।"  बता दें कि, फ़िलहाल ये मामला सुप्रीम कोर्ट में है और अदालत इसकी सुनवाई कर रही है, वहीं, शिक्षा मंत्रालय ने कहा है कि, यदि कोई गड़बड़ी पाई जाती है, तो परीक्षा रद्द करने में संकोच नहीं किया जाएगा 

राहुल गांधी ने आगे कहा कि, "पेपर लीक के पीछे की वजह यह है कि शिक्षा व्यवस्था पर भाजपा के मूल संगठन ने कब्ज़ा कर लिया है। जब तक इसे बदला नहीं जाता, पेपर लीक होते रहेंगे। मोदी जी ने इस कब्ज़े को आसान बनाया है। यह एक राष्ट्रविरोधी गतिविधि है।" कांग्रेस ने बुधवार को NEET-UG विवाद को लेकर देशव्यापी आंदोलन की घोषणा की थी और अपनी राज्य इकाइयों को शुक्रवार को “छात्रों के लिए न्याय की मांग” करते हुए बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करने का निर्देश दिया था।

विरोध प्रदर्शन का आह्वान करते हुए कांग्रेस महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल ने कहा था, "नीट परीक्षा में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार और अनियमितताओं तथा एनडीए सरकार की हताशाजनक निष्क्रियता और चुप्पी के खिलाफ, सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों से अनुरोध है कि वे शुक्रवार, 21 जून 2024 को राज्य मुख्यालयों पर छात्रों के लिए न्याय की मांग करते हुए बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करें। इस प्रदर्शन में वरिष्ठ नेताओं और पार्टी पदाधिकारियों को शामिल होना चाहिए।"

जहरीली शराब से जान गंवाने वाले 34 लोगों के परिवार को 10-10 लाख देगी तमिलनाडु सरकार, CM स्टालिन ने किया ऐलान

'केंद्र सरकार मूकदर्शक बनी नहीं रह सकती..', मराठा आरक्षण पर बोले शरद पवार

नहीं रुकेगी काउंसलिंग..! NEET मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और NTA को भेजा नोटिस

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -