विपक्ष को केवल दो ही समय अवधि मालूम, BC- कांग्रेस से पहले और AD- राजवंश के बाद - पीएम मोदी

विपक्ष को केवल दो ही समय अवधि मालूम, BC- कांग्रेस से पहले और AD- राजवंश के बाद - पीएम मोदी

नई दिल्ली: प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी आज गुरुवार को सांसद के बजट सत्र को सम्बोधित कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कहा है कि एक सरकार को भारत के लोगों के लिए काम करना पड़ता है, एक सरकार को लोगों की आकांक्षाओं के प्रति संवेदनशील होना पड़ता है। अपने सम्बोधन को शुरू करने से पहले पीएम मोदी ने कहा कि संसद में इतने सदस्य बोले, मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं।

VIDEO: राहुल गाँधी के बिगड़े बोल- कहा डरपोक व्यक्ति है मोदी, मेरे सामने से भाग जाएगा...

पीएम मोदी ने कहा है कि विश्वास और आशावाद है जो हमारे राष्ट्र को आगे ले जाएगा। हम वे नहीं हैं जो चुनौतियों से भागते हैं। हम चुनौतियों का सामना करते हैं और लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए काम करते हैं। पीएम मोदी में कांग्रेस कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा है कि हमारे कांग्रेसी मित्र दो समयावधि में चीजों को देखते हैं। BC- कांग्रेस से पहले, जब कुछ नहीं हुआ था, AD- राजवंश के बाद- जहां सब कुछ हुआ। पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के 55 वर्षों के शासनकाल में, स्वच्छता कवरेज लगभग 38% था और हमारे 55 महीनों में यह लगभग 98% है। उनके 55 वर्षों में गैस कनेक्शन 12 करोड़ था, हमारे 55 महीनों में यह 13 करोड़ है। हमने अपने पांच वर्षों में अधिक गति से काम किया है।

VIDEO: पैरों में गिर पड़ा फरियादी, लेकिन नहीं पसीजा 'नाथ' सरकार के मंत्री का दिल

पीएम मोदी ने कांग्रेस द्वारा अपने ऊपर लगाए गए आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा है कि कांग्रेस ने आपातकाल लगाया, लेकिन मोदी संस्थानों को नष्ट कर रहे हैं। कांग्रेस ने सेना का अपमान किया, सेना प्रमुख को गुंडा कहा, लेकिन मोदी संस्थानों को नष्ट कर रहे हैं। कांग्रेस के नेता ऐसी कहानियां बनाते हैं कि भारतीय सेना तख्तापलट कर रही है, लेकिन मोदी संस्थानों को नष्ट कर रहे हैं। कांग्रेस अनुच्छेद 356 का कई बार दुरुपयोग करती है, लेकिन मोदी संस्था को नष्ट कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा है कि भारत के लोगों ने उस काम को देखा है जिसे पूर्ण बहुमत वाली सरकार कर सकती है। उन्होंने एनडीए का काम देखा है। उन्होंने विपक्ष के महागठबंधन को महामिलावट करार देते हुए कहा है कि देश के लोग कोलकाता में इकट्ठे होने वालों की महामिलावट सरकार नहीं चाहते हैं।

खबरें और भी:-

लोकसभा में गडकरी के कामों की जमकर हुई तारीफ, सोनिया और विपक्षी नेताओं ने भी सराहा

महासचिव के रूप में मिसेज वाड्रा ने ली पहली बैठक, जानिए कौन हैं ये दो शख्स जिनसे मिली प्रियंका ?

सुप्रीम कोर्ट से दिनाकरन को झटका, नहीं मिलेगा 'प्रेशर कुकर' चुनाव चिन्ह