PM मोदी ने दी उद्धव ठाकरे को सलाह, बोले- 'आरोपों पर ध्यान मत दो'

Apr 10 2021 09:29 AM
PM मोदी ने दी उद्धव ठाकरे को सलाह, बोले- 'आरोपों पर ध्यान मत दो'

मुंबई: कोरोना का बढ़ता संक्रमण और वैक्सीन की कमी इस समय सभी राज्यों में देखने को मिल रही है। ऐसे में अब राज्य सरकार और केंद्र सरकार के बीच वाद-विवाद देखने को मिल रहा है। एक तरफ उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने अपने बयान में कहा है कि, 'केंद्र सरकार द्वारा जरूरत के हिसाब से वैक्सीन उपलब्ध नहीं करवाई जा रही है। इस वजह से वैक्सीन की कमी का संकट सामने आ रहा है। कई वैक्सीन सेंटरों में वैक्सीन खत्म हो गई हैं और वैक्सीनेशन के लिए आए लोगों को वापस लौटना पड़ रहा है।' वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार और राज्य का विपक्ष यह आरोप लगा रहा है कि 'राज्य सरकार वैक्सीन मैनेजमेंट में असफल रही है और केंद्र के पाले में गेंद डालकर अपनी जिम्मेदारियों से हाथ झटक रही है।'

अब इन सभी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक बड़ा बयान सामने आया है। हाल ही में PM मोदी ने अपने संदेश में स्पष्ट किया है कि कोरोना महामारी से जारी इस लड़ाई में वे किसी तरह के राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप को समर्थन नहीं देते हैं। PM मोदी ने करोना स्थिति पर मुख्यमंत्री ठाकरे से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बीते गुरुवार को संवाद किया था। उस दौरान उन्होंने कहा है, ‘कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या के बीच राज्यों में एक तरह से प्रतिस्पर्द्धा शुरू हो गई है। यह राज्य पूरी तरह से नाकाम हो रहा है, तो वह राज्य अच्छा काम कर रहा है। इस तरह से राज्यों की तुलना करना आजकल एक फैशन बन गया है।’

वहीं आप जानते ही होंगे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने ठाकरे सरकार द्वारा वैक्सीन की उपलब्धता में कमी को लेकर केंद्र सरकार पर की गई टिप्पणी का जवाब दिया था। बीते दिनों ही उन्होंने एक बयान में कहा था कि, 'देश कोरोना से लड़ाई में एक राज्य की वजह से चूक रहा है।' बीते गुरूवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को सलाह दी कि, 'वे आरोपों पर ध्यान ना दें, बल्कि अपने कामों पर ध्यान दें। अगर कोरोना के मरीजों की संख्या ज्यादा आए तब भी आप ज्यादा चिंता ना करें। रोगियों की संख्या ज्यादा होने का मतलब आपका काम खराब है, इस दबाव में ना आएं। मैं अब भी आपसे टेस्टिंग पर ध्यान देने की राय दूंगा। संक्रमितों की संख्या बढ़ने का मतलब हमारा काम खराब है, ऐसा विचार करने की जरूरत नहीं है। आप टेस्टिंग बढ़ाएंगे तो संक्रमितों की संख्या और बढ़ती हुई दिखाई देंगी।’ इस तरह PM मोदी ने उद्धव ठाकरे को समझाया और आगे बढ़ने की नसीहत दी।

RSS प्रमुख मोहन भागवत हुए कोरोना संक्रमित, अस्पताल में हुए भर्ती

पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने CM शिवराज को लिखा पत्र, कहा- ‘कोरोना से लड़ाई में साथ खड़ी है कांग्रेस’

वांटेड अपराधी को पकड़ने बंगाल गए थे बिहार के थानेदार, गांव वालों ने पीट-पीटकर मार डाला