पंजाब : क्या पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के मार्गदर्शन में​ पटरी पर लौट पाएंगी राज्य की अर्थव्यवस्था ?

भारत के कोरोना प्रभावित राज्य पंजाब में कोविड-19 के बाद राज्य को फिर से पटरी पर लाने के उद्देश्य से नीति बनाने के लिए गठित समूह ने सोमवार को पहली बैठक की. जाने माने अर्थशास्त्री मोंटेक सिंह आहलुवालिया के नेतृत्व में विशेषज्ञों के समूह ने इस बैठक में पांच सब ग्रुप तैयार किए. इसके साथ ही, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने भी राज्य की अर्थव्यवस्था और प्रगति को फिर बहाल करने के लिए अपना मार्गदर्शन देने की कैप्टन अमरिंदर सिंह की अपील को स्वीकार कर लिया है. 

अभी ख़त्म नहीं होगा कोरोना, WHO ने जताया खौफनाक अनुमान

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि आहलुवालिया के नेतृत्व में विशेषज्ञों के ग्रुप ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुख्यमंत्री के साथ एक परिचय (इंट्रोडक्शन) मीटिंग की. इसमें खुलासा किया गया कि मुख्यमंत्री ने विशेषज्ञों के ग्रुप के साथ डॉ. मनमोहन सिंह को राज्य सरकार का नेतृत्व करने के लिए लिखा था, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है. इसके बाद उन्होंने ट्वीट किया, ‘हम पंजाब को कोविड-19 के बाद आर्थिक विकास के रास्ते पर आगे ले जाने के लिए सख्त मेहनत करेंगे. हम इस पर दोबारा ध्यान केंद्रित करेंगे.’

चीन पर भड़के ट्रम्प, कहा- कोरोना को रोक सकता था चायना, इतनी मौतें ना होती

इस मामले को लेकर आहलुवालिया ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि विशेषज्ञों के समूह ने अपनी पहली मीटिंग की है. उन्होंने बताया कि समूह के कामकाज को और सुचारू बनाने के लिए पांच सब ग्र्रुप वित्त, कृषि, स्वास्थ्य, उद्योग और सामाजिक सहायता बनाए गए हैं. इस ग्रुप में पहले 20 सदस्य थे. इसमें दो और सदस्य शामिल किए गए हैं. 

आंध्र प्रदेश सीएम बोले, न करें कोरोना रोगी का अपमानमास्क नहीं पहना तो

लगेगा 30 हज़ार रुपए का जुर्माना, इस देश ने लागू किया कानून

सिंध प्रांत के गवर्नर को हुआ कोरोना, पाक में अब तक 14 हजार संक्रमित

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -