बंगाल हिंसा को लेकर SC में याचिका दाखिल, मांग- राज्य सरकार से मांगी जाए 'एक्शन टेकन रिपोर्ट'

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में 2 मई को आए विधानसभा चुनाव नतीजों में राज्य की सत्ताधारी टीएमसी की प्रचंड जीत हुई है. मगर जैसे ही जीत की यह खबर सामने आई राज्य में भारी लूटपाट, हिंसा और आगजनी देखने को मिली है, जो अब भी जारी हैं. भाजपा के कई कार्यकर्ताओं और समर्थकों के मारे जाने और जख्मी होने की इस हिंसा के दौरान खबर है. इसके बाद जहां गृह मंत्रालय की ओर से रिपोर्ट की मांग की गई है, वहीं शीर्ष अदालत में बंगाल हिंसा को लेकर मंगलवार को याचिका दाखिल की गई है.

भाजपा के नेता और सीनियर वकील गौरव भाटिया की ओर से यह याचिका दाखिल की गई. इसमें फेसबुक में वीडियो अपलोड करने के फ़ौरन बाद मारे गए अभिजीत सरकार सहित दूसरे लोगों का उदाहरण दिया गया. इसके साथ ही, हिंसा की CBI जांच की मांग की गई और राज्य सरकार की ओर से की गई कार्रवाई पर रिपोर्ट लेने की मांग की गई है.

इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़ को फोन करके कानून और व्यवस्था की स्थिति पर चिंता और दुख व्यक्त किया है. ये जानकारी राज्यपाल धनखड़ ने ट्वीट करते हुए दी है. गवर्नर धनखड़ ने कहा कि, "पीएम मोदी ने फोन किया. उन्होंने बंगाल में कानून व्यवस्था की स्थिति पर अपनी गंभीर पीड़ा और चिंता जताई है. सीएम ममता बनर्जी से मैं गंभीर चिंताओं को साझा करता हूं. राज्य में हिंसा बर्बरता, आगजनी, लूट और हत्याएं जारी हैं. इस पर नियंत्रण अत्यंत आवश्यक है."

मेडक जिले में हुए दो भयंकर सड़क हादसे, 12 लोगों की हुई मौत

एयर इंडिया के पायलट्स का ऐलान- जल्द ही कोरोना वैक्सीन नहीं लगी तो बंद कर देंगे फ्लाइट्स

नेशनल हॉस्पिटल में कोरोना पीड़ितों के साथ हो रही है लूट, आईएएस व अन्य बड़े अफसर भी हुए शिकार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -