'शिवलिंग नहीं फव्वारा है, मंदिर नहीं मस्जिद है...', ज्ञानवापी पर विवादित बयान देकर घिरे अखिलेश-ओवैसी

लखनऊ: ज्ञानवापी मामला लगातार बड़ा होता जा रहा है। अभी मंदिर और मस्जिद को लेकर कोर्ट में सुनवाई चल रही थी। मगर अब इसमें नेतागण भी कूद पड़े हैं। सोमवार को एक वकील ने बनारस के CJM की कोर्ट में याचिका दाखिल की है। इसमें समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव, AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी व उनके छोटे भाई अकबरुद्दीन सहित सात लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दाखिल करने की गुहार कोर्ट से लगाई गई है। याचिका में दो सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराने की अपील की गई है।

वकील हरिशंकर पांडेय ने अपनी याचिका में अखिलेश व ओवैसी के साथ ही मुफ्ती ए बनारस अब्दुल बातिन नोमानी, ज्ञानवापी मस्जिद के अंजुमन इंतेजामिया कमेटी के प्रमुख मौलाना अब्दुल वाकी, संयुक्त सचिव सैय्यद मोहम्मद यासीन को भी आरोपी बनाया है। उनका कहना है कि अखिलेश, ओवैसी सहित इन सात लोगों ने ज्ञानवापी विवाद पर बयान देकर हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया है। जबकि अज्ञात लोगों पर कोर्ट कमीशन कार्यवाही के दौरान विरोध, बाधा डालने और वुजूखाने में गंदगी फैलाने का इल्जाम है।  

पांडेय का कहना है कि छह मई को सर्वे टीम ज्ञानवापी मस्जिद के भीतर कमीशन की कार्यवाही करने पहुंची थी। वहां जुमे की नमाज के लिए बड़ी तादाद में मुस्लिम पक्ष के लोग मौजूद थे। नमाजियों ने वुजूखाने में हाथ-पैर धोए और गंदगी फैलाई। जबकि वो हमारे आराध्य भगवान शिव का स्थान है। यह हिंदू समाज के लिए बेहद अपमानजनक है। इन पर कार्रवाई आवश्यक है।

बता दें कि AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी इस मामले पर लगातार खुलकर बोल रहे हैं। वो मुस्लिम पक्ष को सही बता रहे हैं। उनका दावा है कि ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाने में जो आकृति पाई गई है, वो शिवलिंग नहीं फव्वारा है। ओवौसी ने न्यू यॉर्क टाइम्स का एक पुराना आर्टिकल साझा करते हुए 2700 साल पुराने फव्वारे की कहानी बताई गई है। उनका कहना है कि संघी जीनियस पूछ रहे हैं कि बिना बिजली के फव्वारा कैसे चलता था? इसे ग्रेविटी कहते हैं। ओवैसी ने शिवलिंग मिलने के हिंदू पक्ष के दावे को लेकर कहा था कि बनारस की ज्ञानवापी कयामत तक मस्जिद ही रहेगी।

'खिलौने आंगनवाड़ी के लिए एकत्रित कर रहे है या राहुल गांधी के लिए...', कांग्रेस नेताओं पर नरोत्तम मिश्रा ने कसा तंज

'बहुतों की गर्मी शांत हो गई है...', आरोप लगा रहे थे अखिलेश, सीएम योगी ने दिया ऐसा जवाब

'भारत में बोलने की आज़ादी पर हो रहा हमला..', इंग्लैंड में बोले राहुल गांधी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -