लोगों की जिंदगी से खिलवाड़, खाद्य सामग्री और दवाओं में मिलाए जा रहे कई तरह से केमिकल

आप बाजार से जो वस्तु का कार्य करते हैं, लेकिन वह वस्तु आपको स्वस्थ रखने के बजाए बीमार भी कर सकती है। ताकत बढ़ाने के लिए बाजार में मिल रही माइकोफिल सिरप में कई तरह से केमिकल मिलाए जा रहें है जिनमे से एक है ट्रेटाजीन। ये पाचन तंत्र को भारी मात्रा में हानि पहुंचा सकता है। इतना ही नहीं लाल मिर्च में सूडान कलर मिलाया जा रहा है, और ये भी आपके पेट में कई तरह की परेशानी को पैदा कर सकती है। बीते दिनों बाजार से लिए गए नमूनों में 29 मानक के विपरीत पाए गए है। अब दुकानदारों पर कार्रवाई की तैयारी में लग चुके है।

बीते शुक्रवार यानी 17 सितंबर को खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के अभिहित अधिकारी डा. गौरीशंकर ने कहा है कि बीते दिनों लिए गए नमूने लखनऊ स्थित लैब में टेस्ट के लिए भेजे गए थे। इनमें माइकोफिल सिरप, घी, मिर्च, सरसों का तेल आदि सेम्पल का नाम शामिल है। सिरप में टेट्राजीन पाया गया है, जबकि घी में रिफाइंड पाया गया है। लाल मिर्च में सूडान कलर की भारी मात्रा पाई गई है। डीओ ने कहा है कि सूडान कलर से पेट से जुड़ी कई बीमारियां होती हैं। टेट्राजीन लिवर को प्रभावित करता है। ये सेहत के लिए घातक है।

जहां इस बारे में अधिकारी ने कहा कि फरह के कठेरपुरा, गोविद नगर के जयभोला मेडिकल स्टोर, एसजी रिटेल्स, तिलकद्वार के कृष्णा घी स्टोर, कोसीकलां के गोयल एजेंसी, वृंदावन अटल्ला चुंगी के केला मसाला उद्योग, गोकुल के श्रीमद् गोकुल डेयरी, कोसीकलां के बालाजी मेडिकल स्टोर, महोली रोड के एसजेए आयल मिल, पूनम जनरल स्टोर, मंसो शर्मा बेकरी, राजकुमार पवन कुमार किराना मर्चेंट, नया बस स्टैंड के अग्रवाल भोजनालय, सुभाष नगर के गिरधर घी, लक्ष्मीनगर के देवेंद्र खोया वाले, राया मांट वाले फाटक के सामने बाबू मिष्ठान भंडार, यमुना एक्सप्रेस वे के बृजवासी ढाबा से सेम्पल लिए गए थे।

पूर्वी नौसेना कमान द्वारा शुरू किया गया अंतर्राष्ट्रीय तटीय सफाई दिवस अभियान

खुशखबरी! LPG सिलेंडर की बुकिंग पर बंपर ऑफर, मिल रहा है 2500 रुपये से अधिक का फायदा

टीसीएस केरल के कोच्चि में इनोवेशन पार्क के लिए 690 करोड़ रुपये करेगी निवेश

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -