अद्भुत ! काशी नगरी में धोती कुर्ता पहनकर खेला गया क्रिकेट, शिक्षकों ने संस्कृत में की कमेंट्री

Feb 12 2019 05:46 PM
अद्भुत ! काशी नगरी में धोती कुर्ता पहनकर खेला गया क्रिकेट, शिक्षकों ने संस्कृत में की कमेंट्री

वाराणसी: काशी नगरी अपनी विविधताओं और संस्कृती के लिए पूरे देश में ही नहीं बल्कि, पूरे विश्व में जानी जाती है। इसी विविधता में यहां संस्कृत भाषा को भी बहुत मान सम्मान दिया जाता है। इसी मान सम्मान के बीच शहर की सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्विद्यालय में मंगलवार से संस्कृत क्रिकेट प्रतियोगिता का आगाज़ हुआ है। शास्त्रार्थ महाविद्यालय की ओर से आयोजित की गई इस क्रिकेट प्रतियोगिता में पांच टीमों ने हिस्सा लिया है।

यू ट्यूब पर फैली सुरेश रैना के निधन की अफवाह, परेशान हुआ खब्बू बल्लेबाज़

धोती कुर्ते में पिच पर रनों के लिए दौड़ते बटुक (खिलाड़ी) और हर शॉट पर गेंद को पकड़ने के लिए दौड़ते हुए बटुकों को देखना सहज ही लोगों को आकर्षित कर लेता है। शहर के सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के क्रिकेट ग्राउंड पर आयोजित की गई इस संस्कृत क्रिकेट प्रतियोगिता के पहले दिन टीमों के अन्दर गज़ब का उत्साह देखने को मिला तो वहीं माइक पर शिक्षकों ने कमेंट्री भी संस्कृत में ही की।

ENG vs WI TEST : रूट के शानदार शतक की बदौलत मजबूत स्तिथि में इंग्लैंड

मुक़ाबले के दौरान कमेंटेंटर ने बाल फेंकने जा रहे बटुक को देख कर जैसे ही कहा ‘अतीव सुंदरतया कंदुक प्रक्षेपणेन, दंड चालक: स्तब्धोजात’ तो लोगों ने मंत्रमुग्ध होकर तालिया बजाई। इससे पहले मैच का उद्घाटन अन्तरराष्ट्रीय महिला खिलाड़ी नीलू मिश्रा और काशी विश्वनाथ मंदिर के अर्चक पं श्रीकान्त मिश्र ने किया था। इस आयोजन के बारे में बात करते हुए शास्त्रार्थ महाविद्यालय के आचार्य पवन कुमार शास्त्री ने कहा है कि महाविद्यालय के 75वें स्थापना दिवस पर हम ये आयोजन कर रहे हैं। 

खबरें और भी:-

गुवाहाटी में शुरू होने जा रही है सीनियर राष्ट्रीय बैडमिंटन चैंपियनशिप, ऐसा है कार्यक्रम

ईरानी कप : शेष भारत ने लिया टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला

आईसीसी टी-20 रैंकिंग में इन भारतीय खिलाडियों ने मारी बाजी