CDS की तरह CIO बनाने का प्लान! ED-CBI का एक मुखिया, जो डायरेक्ट PMO को करेगा रिपोर्ट

CDS की तरह CIO बनाने का प्लान! ED-CBI का एक मुखिया, जो डायरेक्ट PMO को करेगा रिपोर्ट
Share:

नई दिल्ली: केंद्र सरकार भारत के मुख्य जांच अधिकारी (CIO) नाम से एक नया पद सृजित करने पर विचार कर रही है। यह पद भी चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) के समान ही होगा, जो आंतरिक और आर्थिक अपराध के संबंध में कमांड सेंटर की तर्ज पर काम करेगा और देश की शीर्ष केंद्रीय जांच एजेंसी इसके अधीन कार्य करेंगी।

एक रिपोर्ट के अनुसार, उच्चतम स्तर पर चर्चा चल रही है कि, केंद्रीय जांच एजेंसियों में प्रमुख केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) के चीफ CIO को रिपोर्ट करेंगे और यह पूरी कार्य प्रणाली बिलकुल वैसी ही होगी, जैसे भारतीय सेना की तीनों इकाई CDS को रिपोर्ट करती हैं या फिर IB और RA&W जैसी खुफिया एजेंसियां सीधे ​​NSA को रिपोर्ट करती हैं। खबरों की मानें तो, मोदी सरकार का विचार है कि ED और CBI की जांच क्षेत्र कई दफा आपस में मिल जाते हैं। इसमें ED का मुख्य काम आर्थिक धोखाधड़ी पर लगाम लगाना है। ED के दायरे में मुख्यतः मनी लॉन्ड्रिंग और FEMA उल्लंघन से संबंधित शिकायतों का निपटारा होता है।

वहीं, CBI भ्रष्टाचार, आर्थिक अपराधों समेत कई तरह के मामलों को देखती है। इसके चलते मोदी सरकार का मानना है कि दोनों जांच एजेंसियों के लिए एक कमांड सेंटर होने से दोनों आसानी होगी और CIO के नेतृत्व में दोनों एजेंसियों के बीच काम का बेहतर तालमेल बनेगा। बताया जा रहा है कि CIO का नया पद भारत सरकार के सचिव रैंक का होगा। अटकलें हैं कि ED चीफ पद से हटने पर संजय मिश्रा को पहला CIO बनाया जा सकता है। मिश्रा को हाल ही में सर्वोच्च न्यायालय ने 15 सितंबर तक ED चीफ के रूप में बने रहने की अनुमति दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने उनकी सेवानिवृत्ति के बाद केंद्र सरकार द्वारा उन्हें दिए गए एक-एक साल के दो एक्सटेंशन को गैर-कानूनी बताया था।

इसको देखते हुए, इस बात की संभावना है कि सरकार CIO का पद 15 सितंबर को या उससे पहले सृजित कर सकती है, ताकि ED प्रमुख मिश्रा के कार्यालय छोड़ने से उन्हें नवीन तैनाती दी जा सके। इसके साथ यह भी जानकारी सामने आई है कि ED केंद्रीय वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के तहत काम करना जारी रखेगा, वहीं CBI डीओपीटी के तहत कार्य करेगी। हालांकि कमाड सेंटर के तौर पर काम करने वाले CIO दोनों एजेंसियों के कार्यों की रिपोर्ट प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) को सौंपेगा।

'राष्ट्रपति बाइडेन कहते हैं कि, भारत उनके लिए..', G20 फोरम में बड़ी बात बोल गए अमेरिकी राजदूत गार्सेटी

क्या आपके मोबाइल पर भी आया है Emergency Alert का SMS ? जानिए ये सच है या फर्जी !

क्या आपके मोबाइल पर भी आया है साइबर स्वच्छता केंद्र का SMS ? कहीं ये ऑनलाइन धोखा तो नहीं...

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -