आरएसएस ने सबरीमाला को युद्ध के मैदान में बदल दिया- पिनरायी विजयन

कोच्ची: केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और उसके विचारधारात्मक सलाहकार आरएसएस की कड़ी निंदा की है, उन्होंने कहा है कि आरएसएस और बीजेपी ने राज्य में अपनी राजनितिक पकड़ को मजबूत करने के लिए सबरीमाला मंदिर को युद्ध के मैदान में बदलकर रख दिया है. पिनरायी विजयन ने पांच दिनों के अनुष्ठान के बाद अगले महीने तक मंदिर बंद होने के कुछ घंटे बाद मीडिया को सम्बोधित कर रहे थे.

सबरीमाला विवाद: पुनर्विचार पर राज़ी हुआ सुप्रीम कोर्ट, 13 नवंबर को होगी सुनवाई

उल्लेखनीय है कि आरएसएस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं द्वारा सुप्रीम कोर्ट के आदेश का जबरदस्त विरोध किया गया था, जिस आदेश में अदालत ने सबरीमाला में 10 से 50 वर्ष के बीच की महिलाओं के प्रवेश पर लगे सदियों पुराने प्रतिबन्ध को हटा दिया था. इसके बाद से कई महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश की थी, लेकिन प्रदर्शनकारियों की भीड़ ने उन्हें बीच रास्ते से ही वापिस पहुंचा दिया था.

सबरीमाला मंदिर विवाद फिर पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, पुनर्विचार याचिका पर होगा फैसला

इस बारे में मीडिया को बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आरएसएस केरल में पहली बार हुई इस भयानक हिंसा के लिए जिम्मेदार है, वे केरल में पाँव ज़माने के लिए इस तरह की गन्दी राजनीति कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि यह दुखद है कि इस कार्य में कांग्रेस भी उनका साथ दे रही है. मुख्यमंत्री ने मंदिर के मुख्य पुजारी पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि पुजारी ने जो किया वो गलत था, वो शीर्ष अदालत के आदेश के खिलाफ थे, उन्हें इस तरह की धमकियां देने का अधिकार नहीं है. आपको बता दें कि जब दो महिलाएं मंदिर के करीब पहुँच गई थी, तब मुख्य पुजारी ने धमकी देते हुए कहा था कि अगर महिलाएं जबरदस्ती मंदिर में प्रवेश की कोशिश करेंगी तो वे मंदिर बंद कर देंगे. 

खबरें और भी:-

सबरीमाला के पट खुले लेकिन कोई भी महिला नहीं कर पाई दर्शन

सबरीमाला विवाद: सामूहिक आत्महत्या करेंगी शिवसेना की महिला कार्यकर्ता

अगर आप भारतीय स्टेट बैंक के ग्राहक हैं तो पढ़िए बैंक के इस ई मेल को

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -