तीसरी मेड्रिड ओपन जीतकर क्वितोवा ने रचा कीर्तिमान

मेड्रिड: पेट्रा क्वितोवा ने अपने डच प्रतिद्वंद्वी किकी बर्टेंस को हराकर रिकॉर्ड तीसरा मैड्रिड ओपन खिताब जीत लिया है. वर्ल्ड नम्बर-10 क्वितोवा ने महिला एकल वर्ग के फाइनल में नीदरलैंड्स की किकि बर्टेस को मात दी. क्वितोवा ने दो घंटे और 52 मिनट तक चले मैराथन मैच में बर्टेस को 7-6 (8-6), 4-6, 6-3 से मात देकर खिताबी जीत हासिल की. इस तरह वे ये ख़िताब तीसरी बार जितने वाली पहली महिला खिलाड़ी बन गई हैं.

क्वितोवा इससे पहले स्पेन में 2011 और 2015 में हुए मेड्रिड ओपन में ख़िताब अपने नाम किया था, हॉलैंड की खिलाड़ी ने इससे पहले कैरोलीना वोज्नियाकी और मारिया शारापोवा को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी और पहले सेट को टाईब्रेक में हारने के बाद दूसरे सेट में 6-4 से जीत दर्ज कर मैच को निर्णायक सेट में पहुंचा दिया, बर्टेंस ने तीसरे सेट में शुरूआती ब्रेक अंक हासिल किया लेकिन क्वीतोवा ने लगातार दो बार उनकी सर्विस ब्रेक करते हुए 4-2 से बढ़त बना ली. 

बर्टेंस ने फिर क्वीतोवा की सर्विस ब्रेक कर स्कोर 4-3 किया, लेकिन अगले गेम में वे अपनी सर्विस गँवा बैठी और क्वितोवा ने बिना मौका गंवाए बर्टेंस को मात देते हुए तीसरी बार मेड्रिड ओपन का ख़िताब जीत लिया. न्होंने अमेरिका की सेरेना विलियम्स और रोमानिया की सिमोना हालेप को पीछे छोड़ दिया है जिनके नाम दो दो खिताब हैं. अपनी इस जीत पर उन्होंने कहा कि "आज का मैच काफी मुश्किल था, लेकिन मैंने अपना पूरा ज़ोर लगाया और नतीजा मेरे हक़ में हुआ. "

महिला एशियन चैंपियंस ट्रॉफी में भारत आज जापान से भिड़ेगा

गोल्फर चौरसिया ने किया कट में प्रवेश

नहीं रहें हॉकी प्लेयर मंसूर अहमद

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -