खाद्य उत्पादों में 12.50 फीसदी गैर-स्वीकृत खतरनाक कीटनाशक

नई दिल्ली. गौरतलब है कि भारत में 2005 में प्रारंभ हुई केंद्रीय कीटनाशक अवशिष्ट निगरानी योजना के तहत देशभर से इकट्ठा किये गए सब्जियों, फलों, दूध और अन्य खाद्य उत्पादों के तकरीबन 20,618 नमूनों से 12.50 प्रतिशत में गैर-स्वीकृत खतरनाक कीटनाशक पाये गए है। तथा 2014-15 के दौरान एकत्रित किये गए नमूनों की जांच करीब 25 प्रयोगशालाओं में दोहराई गई है व यह निष्कर्ष निकला है। तथा इन खानेपीने के पदार्थो में एसीफेट, बाइफेंथ्रीन, एसीटामिप्रिड, ट्राइजोफोस, मेटलैक्जिल, मेलैथियन, एसीटैमिप्रिड, काबार्सल्फान, प्रोफेनोफोस और हेक्साकोनाजोल खतरनाक कीटनाशक के अंश पाए गए.

कृषि मंत्रालय द्वारा जारी रपट के मुताबिक 20,618 नमूनों की जांच की गई उनमें 12.5 प्रतिशत नमूनों में गैर-स्वीकृत कीटनाशक पाए गए। इसके साथ साथ  सब्जियों के 1,180 नमूने, फलों के 225, मसालों के 732, चावल के 30 और दलहन के 43 नमूनों में गैर स्वीकृत कीटनाशक अंश पाए गए. व सब्जियों में हमे ट्रायाजोफोस, एसीटामिप्रिड, मेटलैक्सिल, मैलेथियन पाए गए.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -