शिरडी में प्रतिवर्ष जमा हो रहे करोड़ों सिक्कों से हो रही परेशानी, RBI ने निकाला ये समाधान

Jun 20 2019 10:06 AM
शिरडी में प्रतिवर्ष जमा हो रहे करोड़ों सिक्कों से हो रही परेशानी, RBI ने निकाला ये समाधान

अहमदनगर: भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बुधवार को शिरडी स्थित श्री साईंबाबा संस्थान ट्रस्ट (एसएसएसटी) के छोटे सिक्कों की बड़ी समस्या का हल निकाल लिया है. यह जानकारी यहां एसएसएसटी के एक आला अधिकारी ने दी है. केंद्रीय बैंक ने एसएसएसटी के खाते वाले 16 राष्ट्रीयकृत बैंकों को मंदिर में प्रति वर्ष लाखों श्रद्धालुओं द्वारा चढ़ाए जाने वाले छोटे सिक्कों को स्वीकार करने का निर्देश दिया है.

एसएसएसटी के चीफ अकाउंट्स ऑफिसर बी. बी. घोरपड़े ने मीडिया को बताया है कि, "आरबीआई के महानिदेशक (निर्गत) के. कमलकानन ने इस समस्या को हल करने के लिए एक बैठक की है. हम बीते एक साल से इस समस्या से जूझ रहे थे." उन्होंने बताया है कि साईंबाबा समाधि मंदिर के खजाने और आसपास के परिसर में वर्ष भर में औसतन एक करोड़ सिक्के जमा होते हैं जिनके मूल्य लगभग चार करोड़ रुपये होते हैं.

इनमें एक रुपया, दो रुपये, पांच रुपये और 10 रुपये के सिक्के होते हें. सिक्कों का वजन कई टन होता है, जिनकी गिनती कर उनकी लेखांकन करने के बाद विभिन्न बैंकों में स्थित एसएसएसटी के खातों में जमा करवाया जाता है. गत वर्ष से अधिकांश बैंकों ने स्थान का अभाव होने, गिनने में कठिनाई होने और परिवहन व उनको वापस सर्कुलेशन में लाने की समस्याओं को लेकर सिक्के लेने से इंकार कर दिया है.

राष्ट्रीय कार्यकारिणी में जाने से सिद्धू का इंकार, अब आगे ऐसे समीकरण

'शिल्पा शेट्टी' ने योग करते हुए शेयर की ये शानदार तस्वीर

महाराष्ट्र सरकार के बजट का व्यापार और किसानों पर कुछ इस तरह से पड़ेगा असर