मासिक पेंशन स्कीम निलंबित होने पर भड़के लोग

Apr 11 2015 08:34 PM
मासिक पेंशन स्कीम निलंबित होने पर भड़के लोग

नई दिल्ली : ट्रेड यूनियनें एक हजार रुपये की न्यूनतम मासिक पेंशन स्कीम निलंबित होने से भड़क गई हैं. उन्होंने सरकार के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया है. हिंद मजदूर सभा के सचिव एडी नागपाल ने कहा, "सभी सेंट्रल टे्रड यूनियनें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष यह मसला उठाएंगी. इस स्कीम को बहाल करने की मांग को लेकर उन्हें पत्र लिखा जाएगा. हम इस फैसले के खिलाफ राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन भी करेंगे". कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने इस महीने से एक हजार रुपये की न्यूनतम मासिक पेंशन स्कीम को निलंबित कर दिया है.

यह स्कीम सितंबर, 2014 में शुरू हुई थी. इसमें उन लोगों के लिए एकमुश्त पेंशन की राशि को बढ़ाते हुए एक हजार रुपये प्रति माह कर दिया गया था, जो पूर्व में इससे कम राशि पाते थे. इस फैसले से करीब 32 लाख पेंशनभोगी प्रभावित होंगे. इन लोगों को अब पुरानी दरों पर पेंशन का भुगतान होगा. नागपाल ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद इस स्कीम की घोषणा की थी. क्या सरकार ने यह स्कीम सिर्फ छह महीने के लिए बनाई थी".