चर्चा में छाया ये पेनिस मशरूम, जानिए क्या है खासियत

दुनियाभर में कई अनोखी चीजें हैं जो किसी ना किसी वजह से चर्चा में आ जाती है। जैसे इस समय चर्चा में बना है ये मशरूम। इस मशरूम का नाम पेनिस मशरूम है और यह इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है। इसे वैज्ञानिक भाषा में फैलस रुबिकंडस कहा जाता है। आपको बता दें कि पेनिस मशरूम असल में कवक यानी फंगस की एक प्रजाति है, जो स्टिंकहॉर्न फैमिली का है। जी दरअसल इसे सबसे पहले साल 1811 में खोजा गया था और यह आमतौर पर उष्णकटिबंधीय देशों में पाया जाता है। इस लिस्ट में भारत, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिणी और पूर्वी अमेरिका, चीन, जापान, कोरिया, थाईलैंड, घाना, कॉन्गो, केन्या और दक्षिण अफ्रीका शामिल है। हाल ही में साइंस अलर्ट नाम की साइट ने अपने सोशल मीडिया हैंडल से इसकी फोटो जारी की जो चर्चा का विषय बन गई है। अब हम आपको बताते हैं इस मशरूम की खासियत?

जी दरअसल पेनिस मशरूम किसी भी तरह की गिली मिट्टी, लॉन, गार्डेन और आपके मकान के पीछे की जमीन पर उग सकता है। आपको बता दें कि भारत के मध्यप्रदेश में आदिवासी समूह इसे झिरी-पिहिरी के नाम से बुलाता हैं। वहीं यह भरिया और बैगा आदिवासी समूहों में मशहूर है। वह इस मशरूम का उपयोग टाइफाइड यानी आंतों के बुखार को ठीक करने के लिए करते हैं। केवल यही नहीं, यह आदिवासी पेनिस मशरूम का उपयोग गर्भवती महिला को लेबर पेन के दौरान देते हैं। जी दरअसल इसे चीनी के साथ घिसकर-कूटकर सुखाया जाता है और इसके बाद गर्भवती महिला या टाइफाइड से पीड़ित मरीज को दिन में तीन बार एक-एक चम्मच दिया जाता है।

केवल भारत में ही नहीं, ऑस्ट्रेलिया के स्थानीय आदिवासियों द्वारा इसे एफ्रोडिजिएक के तौर पर उपयोग किया जाता है, यानी वो दवा जिससे यौन शक्ति बढ़े। वैसे इसकी दुर्गंध बेहद खतरनाक होती है और इसकी दुर्गंध से कीड़े आकर्षित होते हैं। यह दिखता पेनिस के आकार जैसा है और अब यह बारिश के बाद कई देशों में यह उग रहा है।

चौराहे पर 50 एयर होस्टेस ने उतार दिए कपड़े, चौका देगी वजह

मिला 700 साल पुराना खजाना

लड़की के गले में अटका हॉट डॉग, हुई मौत!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -