पीडीपी-बीजेपी का गठबंधन टुटा, शाम तक मुफ़्ती का इस्तीफा संभव

सीज फायर को लेकर लगातार जारी घमासान के चलते आज पीडीपी और बीजेपी का जम्मू कश्मीर में गठबंधन टूट गया  है. इस फैसले के बाद जम्मू कश्मीर के बीजेपी महासचिव राम माधव ने कहा की जम्मू में जारी हिंसा को लेकर मुफ़्ती सरकार और बीजेपी के बीच आम सहमति नहीं है. सीज फायर पर महबूबा मुफ़्ती के साथ न होते हुए हम जम्मू कश्मीर सरकार में बीजेपी की भागीदारी ख़त्म करने का एलान कर रहे है. तीन साल पहले शुरू हुई ये साझेदारी आज टूट रही है. बीजेपी ने अपनी तरफ से हर संभव मदद की है और शांति बहाली और विकास को लेकर हर कदम पर पीडीपी का साथ दिये.

महासचिव राम माधव ने कहा आज के हालात आतंकवाद के बढ़ने के बाद रमजान में सीजफायर जारी किया गया मगर उसका कोई फायदा नहीं हुआ. पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या एक दुखद बात है. माधव ने कहा केंद्र सरकार ने राज्य सरकार को लगातार मदद की है और कई परियोजनाएं लागु की है. पीडीपी को समर्थन वापस लिए जाने की जानकारी दी जा चुकी है. सूत्रों के अनुसार आज शाम तक महबूबा मुफ़्ती अपना इस्तीफा दे सकती है.

राम माधव ने कहा पाक को करारा जवाब देने में सिमा पर सेना अपनी काबिलियत साबित कर चुकी है मगर आज इस बात की सुचना देते हुए मुझे दुःख हो रहा है की जिस सरकार में हम भी भागीदार थे वही पीडीपी के मुख्य नेतृत्व के निर्णयों पर मतभेद के कारण आज ये सम्बन्ध टूट रहे है. गौरतलब है कि सरकार ने रमजान में जारी सीजफायर को ख़त्म कर सेना के सभी ऑपरेशन और अधिक बल के साथ शुरू करवाए है, वही जम्मू कश्मीर सरकार इसे बढ़ाने पर आमादा थी. 

'मैं कश्मीर जा कर कुल्हाड़ी से आतंकियों को काट डालूंगा'

कश्मीर : 30 दिनों के बाद दहाड़े भारतीय शेर, एक ही दिन में 4 आतंकी ढ़ेर

रमज़ान के साथ सेना के बंधन ख़त्म, आतंकियों पर होगी कार्यवाई


  

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -