149 साल बाद दुनिया में दिखाई दिया चंद्र ग्रहण का ये नज़ारा, देखें तस्वीरें

149 साल बाद दुनिया में दिखाई दिया चंद्र ग्रहण का ये नज़ारा, देखें तस्वीरें

मंगलवार रात 1:32 बजे भारत में साल का दूसरा चंद्रग्रहण लगा, जो तड़के 4:30 बजे तक देखा गया. ये साल का अन्तिम चंद्र  ग्रहण था. यह आंशिक चंद्र ग्रहण (Partial Lunar Eclipse) था. यह चंद्रग्रहण इसलिए खास रहा, क्योंकि 149 साल बाद आषाढ़ मास की पूर्णिमा यानि गुरु पूर्णिमा की रात चंद्र ग्रहण लगा. ये संयोग बेहद ही खास था जिसे कई लोगों ने देखा भी होगा. हम आपको बताने जा रहे हैं कि अलग अलग देशों में इसका नज़ारा कैसा रहा. 

हिन्‍दू मान्‍यताओं के अनुसार आषाढ़ शुक्‍ल पक्ष की पूर्णिमा के दिन ही आदिगुरु, महाभारत के रचयिता और चार वेदों के व्‍याख्‍याता महर्षि कृष्‍ण द्वैपायन व्‍यास यानी कि महर्षि वेद व्‍यास (Ved Vyas) का जन्‍म हुआ था. ग्रहण की वजह से सूतक काल से पहले ही गुरु पूर्णिमा की पूजा कर गई. आपको बता दें कि 16 जुलाई को लगे आंशिक चंद्र ग्रहण के बाद फिर 2019 का आखिरी ग्रहण और तीसरा सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) 26 दिसंबर को होगा, जिसे भारत में देखा जा सकेगा. जानकारों ने बताया कि 26 दिसंबर को वलयकार (Annular Solar Eclipse) सूर्य ग्रहण होगा. 

यहां इस आंशिक चंद्र ग्रहण को अलग-अलग समय में भारत, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, यूरोप और अमेरिका के ज्यादातर भागों में देखा गया. चंद्र ग्रहण का सूतक ठीक 9 घंटे पहले यानी शाम 4:30 बजे शुरू हुआ. इस वजह से चार धाम समेत देश के प्रमुख सभी मंदिरों के पट शाम 4:00 से बजे बंद हो गए. तो आइए देखते है चंद्र ग्रहण कि देश विदेश की अद्भुत तस्वीरें. 

इटली में भी कुछ ऐसा दिखा चंद्र ग्रहण का नजारा

ये अद्भुत नजारा फ्रांस का है.

क्रोएशिया में कुछ यह था चंद्र ग्रहण का नजारा

ऑस्ट्रेलिया में चंद्र ग्रहण का नजारा कुछ ऐसा था.

मुंबई में भी दिखा चंद्रग्रहण का शानदार नजारा, देखने के लिए भारी संख्या में लोग जमा हुए.

मुंबई के अलावा जयपुर, लखनऊ, कोलकाता और भोपाल में भी चंद्रग्रहण देखने के लिए लोगों में उत्सुकता दिखी.

अब बेडशीट ही बताएगी कि आखिरी बार कब धोया गया था, जानें कैसे

इंदौर में दिखा लाल रंग का सांप, जानें क्या है वायरल वीडियो का सच

लोगों से व्यस्त रोड को पार करता दिखा जंगल का राजा, वायरल हुआ वीडियो