नोटबंदी ने ठोंकी आतंकवाद के ताबूत में कील

Nov 15 2016 10:40 AM
नोटबंदी ने ठोंकी आतंकवाद के ताबूत में कील

नई दिल्ली : भारत के रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा है कि नोटबंदी के चलते आतंकवाद पर असर हुआ है। हालात ये हो रहे हैं कि आतंकवादी गतिविधियों में लगने वाला धन आतंकियों को मिलना बंद हो गया है। इतना ही नहीं जम्मू - कश्मीर में सुरक्षा बलों पर अब पत्थरबाजी नहीं की जा रही है। रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर द्वारा कहा गया कि इस तरह के प्रयास के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद है। उन्होंने कहा कि सरकार इस तरह के कदम उठा रही है तो इससे मादक पदार्थों की तस्करी पर भी रोक लग सकती है।

रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि सुरक्षाबल पर पत्थरबाजी करने के लिए 500 रूपए और दूसरे काम के लिए 1000 रूपए का चलन अधिक था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद के वित्तपोषण को शून्य कर दिया। अब तो हालात ये हैं कि जम्मू-कश्मीर राज्य में शांति है।

जम्मू-कश्मीर में भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता सुनील सेठी द्वारा कहा गया कि नोटबंदी के निर्णय द्वारा कश्मीर में अलगाववाद और आतंकवाद को इस तरह से रोकने का प्रयास किया है कि अब वह दुबारा अपने पैर न पसारे। केंद्र सरकार के नोटबंदी के कदम से आतंकवाद पस्त हो गया है और कश्मीर में शांति की स्थिति बन रही है। एक तरह से ऐसा लग रहा है जैसे आतंकवाद को ताबूत में ही बंद कर दिया हो और अब वह कभी अस्तित्व में नहीं आएगा।