नीति आयोग के नए CEO होंगे परमेश्वरन अय्यर, केंद्र सरकार ने दी नाम को मंजूरी

नई दिल्ली: केंद्र सरकार द्वारा नीति आयोग के नए CEO का ऐलान कर दिया गया है. परमेश्वरन अय्यर नीति आयोग के नए CEO होंगे. दरअसल, 30 जून को अमिताभ कांत का कार्यकाल ख़त्म हो रहा है. उसके बाद से परमेश्वरन इस पद की जिम्मेदारी संभालने वाले हैं. उनका कार्यकाल दो वर्ष का रहेगा. बता दें कि अमिताभ कांत को साल 2016 में नीति आयोग का CEO बनाया गया था.

इसके बाद तीन बार उनका कार्यकाल आगे बढ़ाया गया और अब 30 जून को वो ख़त्म होने जा रहा है. अय्यर की बात करें तो उनका जन्म जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में हुआ था. वे उत्तर प्रदेश से 1981 बैच के IAS अफसर हैं. उन्होंने वर्ष 2009 में भारतीय सिविल सेवा से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली थी. उसके बाद वे वर्ल्ड बैंक के साथ वॉटर रिसोर्स मैनेजर के तौर पर काम करने लगे थे. थोड़े समय के लिए उन्होंने संयुक्त राष्ट्र (UN) के साथ भी काम किया है और अपनी सेवाएं दी है. 2016 में भारत सरकार ने स्वच्छ भारत मिशन में भी परमेश्वरन अय्यर की सहायता ली थी. उन्होंने काफी समय तक इस मुहिम में एक सक्रिय भूमिका निभाई और अपने आवश्यक सुझाव दिए. बाद में उन्होंने जल शक्ति मंत्रालय के साथ भी काम किया. 

यहां ये जानना आवश्यक हो जाता है कि नीति आयोग मोदी सरकार की सभी योजानाओं को पूरा करने में एक सक्रिय भूमिका निभाता है. इसका गठन 1 जनवरी 2015 को केंद्रीय कैबिनेट द्वारा किया गया था. इसका मुख्य उदेश्य ये रहा कि ये भारत सरकार को समय-समय पर दिशात्मक और नीतिगत इनपुट देता है. आर्थिक और सामाजिक मुद्दों पर भी नीति आयोग द्वारा भारत सरकार को महत्वपूर्ण सुझाव दिए जाते हैं.

स्वच्छ भारत मिशन का विचार देने वाले बनेगे नीति आयोग के नए सीईओ

केंद्र ने मई तक रिकॉर्ड तोड़ प्याज की खरीदी की

भारत ने निभाया बड़ा होने का फ़र्ज़.. अफ़ग़ानिस्तान में भेजी आपातकालीन राहत सहायता

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -