बढ़ते अपराध ग्राफ के खिलाफ पप्पू यादव की पार्टी ने किया बिहार बंद का ऐलान

Feb 20 2016 01:50 PM
बढ़ते अपराध ग्राफ के खिलाफ पप्पू यादव की पार्टी ने किया बिहार बंद का ऐलान

पटना : बिहार में अपराध का ग्राफ यकायक उपर की ओर उठ गया, इसे देखते हुए पहले विपक्ष और अब अन्य राजनीतिक पार्टियां राजनीति में जुट गई है। राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था के खिलाफ पप्पू यादव की जन अधिकार पार्टी ने शनिवार को बिहार बंद का ऐलान किया है। यादव व उनकी पार्टी के कार्यकर्ता सुबह होते ही इसकी तैयारी में जुट गए।

सबसे पहले इसका असर सहरसा-मधेपुरा में दिखा, बाद में पूर्वी बिहार के कई जिलों में भी इसका असर होने लगा। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने शहर के बाजारों में जुलूस की शक्ल में निकले और खुल रही दुकानों को जबरन बंद करवा दिया। इसके बाद सड़क व यातायात को भी बाधित करने का प्रयास किया गया। दरभंगा रेलवे स्टेशन पर दरभंगा-दिल्ली बिहार संपर्क क्रांति को घंटो रोक कर रखा गया।

पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सरकार विरोधी नारे भी लगाए। दरअसल राज्य में शुरुआत में दो इंजीनियरों की निर्मम हत्या हुई तो वहीं सप्ताह भर के भीतर ही दो बीजेपी समेत तीन राजनीतिज्ञों की भी हत्या हो गई। इसके बाद से ही सत्ताधारी सरकार के नेतृत्व पर सवाल उठने लगे। इसी कारण ये विरोध भी किया जा रहा है।

बिहार में गिरते लॉ एंड ऑर्डर के मसले पर हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात की। उन्होंने राष्ट्रपति को राज्य में हो रही राजनीतिक हत्याओं और बढ़ते अपराध की जानकारी दी। मांझी ने राष्ट्रपति से इस बारे में हस्तक्षेप का अनुरोध किया।