रामलला की प्राण प्रतिष्ठा करवाने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का निधन, 86 की उम्र में ली आखिरी सांस

रामलला की प्राण प्रतिष्ठा करवाने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित का निधन, 86 की उम्र में ली आखिरी सांस
Share:

वाराणसी: अयोध्या में रामलला (Ram Mandir Ayodhya) की प्राण प्रतिष्ठा करवाने वाले पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित (Pandit Laxmikant Dixit) का निधन हो गया है. लक्ष्मीकांत दीक्षित लंबे वक़्त से गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे. उन्होंने 86 वर्ष की आयु में वाराणसी में आखिरी सांस ली. उनकी मौत से हर जगह शोक की लहर है. पुजारी लक्ष्मीकांत दीक्षित की आखिरी यात्रा उनके निवास स्थान मंगलागौरी से निकलेगी.

लक्ष्मीकांत दीक्षित वाराणसी के मीरघाट स्थित सांगवेद महाविद्यालय के वरिष्ठ आचार्य थे. इस विश्वविद्यालय की स्थापना काशी नरेश के सहयोग से की गई थी. आचार्य लक्ष्मीकांत की गिनती काशी में यजुर्वेद के बड़े विद्वानों में होती थी. इतना ही नहीं लक्ष्मीकांत दीक्षित पूजा पद्धति में भी सिद्धहस्त माने जाते थे. लक्ष्मीकांत दीक्षित ने वेद एवं अनुष्ठानों की दीक्षा अपने चाचा गणेश दीक्षित भट्ट से ली थी. मूल रूप से महाराष्ट्र के शोलापुर जिले के जेऊर के रहने वाले लक्ष्मीकांत दीक्षित का परिवार कई पीढ़ियों पहले काशी में आ कर बस गया था. उनके पूर्वजों ने नागपुर एवं नासिक रियासतों में भी धार्मिक अनुष्ठान कराए हैं. लक्ष्मीकांत के बेटे इसे पहले सुनील दीक्षित ने बताया था कि उनके पूर्वज पंडित गागा भट्ट ने ही 17वीं शताब्दी में छत्रपति शिवाजी महाराज का राज्याभिषेक भी करवाया था.

22 जनवरी को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की गई थी. राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा का अनुष्ठान 121 पुजारियों की टीम ने किया था. काशी के विद्वान लक्ष्मीकांत दीक्षित इसके मुख्य पुजारी थे. वैसे तो 16 जनवरी से ही प्राण प्रतिष्ठा के अनुष्ठान शुरू हो गए थे, किन्तु 22 जनवरी को मंगल अनुष्ठान संपन्न किए गए थे. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) अयोध्या में मुख्य यजमान के रूप में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में सम्मिलित हुए थे. तब प्रधानमंत्री मोदी ने पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित से मुलाकात की थी.

‘वॉट्सऐप पर मुस्लिम बनने का फायदा बताते हैं प्रोफेसर’, उज्जैन की विक्रम यूनिवर्सिटी में छात्रों ने मचाया हंगामा

प्रेमिका की लाश लेकर कार से जा रहा था शख्स अचानक ख़राब हो गई गाड़ी और फिर...

'विधानसभा चुनावों में तस्वीर अलग होगी..', सीट शेयरिंग पर शरद पवार का बड़ा बयान, क्या सहयोगियों को देंगे झटका ?

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -