हरियाणा : आबकारी विभाग में हुई अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही

हरियाणा में लॉकडाउन के दौरान हुए मंदिरा घोटाले के पश्चात उप डिप्टी एवं आबकारी व कराधान मंत्री दुष्यंत चौटाला ने बड़ी कार्यवाही को अंजाम देते हुए, राज्य के 21 जिलों में उप आबकारी एवं काराधान आयुक्तों (डीइटीसी) के ट्रांसफर कर दिए हैं. आबकारी महकमें में पिछले कई महीने के दौरान यह बड़ी कार्यवाही हुई है. हालांकि ज्यादातर डीइटीसी सर्विस टैक्स के कार्यभार से जुड़े हैैं, जबकि कुछ डीइटीसी के पास आबकारी का कार्य है.

असम में कोरोना का कहर जारी, तीन और विधायक संक्रमण के हुए शिकार

नई तैनाती में इस बात का ध्यान रखा गया है कि किसी भी अफसर को उसका पैतृक शहर नही दिया जाए. आबकारी एवं कराधान महकमें के प्रमुख सचिव अनुराग रस्तोगी द्वारा जारी आदेशों के अनुसार सुरेंद्र लाठर को मेवात से सोनीपत, समीर यादव को सोनीपत से मेवात, दीपिका चौधरी को मेवात, राजेश बैनीवाल को जगाधरी से पंचकूला, राजा राम नैन को पानीपत से अंबाला, आनंद सिंह को अंबाला से रोहतक, आरके नैन को नारनौल से करनाल, अनिरूद्ध शर्मा को करनाल से गुरुग्राम (वेस्ट) स्थानांतरित किया गया है.

वीडियो शेयर कर रिया चक्रवर्ती ने परिवार के लिए की ये मांग

बता दे कि अदितेंद्र सिंह को सिरसा से रेवाड़ी, शफीक मोहम्मद को रेवाड़ी से नारनौल, अशोक पांचाल को पंचकूला से जगाधरी, जितेंद्र राघव को पंचकूला से सिरसा, अशोक पासी को सिरसा से पंचकूला, रविंदर सिंह को फरीदाबाद (साउथ) से फरीदाबाद (वेस्ट), वंदना चौधरी को फरीदाबाद (वेस्ट) से फरीदाबाद (साउथ), एसके बोडवाल को रोहतक से कैथल डीईटीसी नियुक्त किया गया है.इसी प्रकार डीएस माथुर को कैथल से गुरुग्राम (हिपा), कुलबीर सिंह को डीईटीसी गुरुग्राम से कैथल, पुनीत शर्मा को पानीपत से फरीदाबाद (नार्थ) तथा सूरत सिंह मलिक को फरीदाबाद (नार्थ) से पानीपत में नई तैनाती दी गई है.

असुर राजा के सम्मान में मनाया जाता है ये पर्व, होते हैं कई विशेष आयोजन

कोरोना के बेकाबू होते ही इस राज्य में फिर से लगा लॉकडाउन

इस दिन अपनी प्रजा से मिलने आते हैं राजा बलि, जानिए ओणम पर्व की 6 महत्वपूर्ण बातें

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -