'हम सब लोग मारे जाएंगे, इजराइल बिलकुल निर्मम है...', फिलिस्तीनियों का छलका दर्द

जेरूसलम: इजरायल और फिलिस्तीनी आंतकियों के बीच जंग और तेज हो गई है। हमास की ओर से जारी हमलों के बीच इजराइल की जवाबी कार्रवाई में शनिवार (15 मई 2021) तक कम से कम 137 फिलिस्तीनी मारे गए हैं और 920 जख्मी बताए जा रहे हैं। इससे पहले हमास ने आज सुबह इजरायल के अशदोद शहर पर ढेरों रॉकेट दागे। वहीं, अलजजीरा की रिपोर्ट के अनुसार, फिलिस्तीन में मरने वालों का आँकड़ा बढ़ सकता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इजरायल के अटैक से बचने के लिए हजारों फिलिस्तीनी परिवारों ने उत्तरी गाजा में यूनाइटेड नेशंस द्वारा संचालित स्कूलों में पनाह ली है। यूनाइटेड नेशंस ने कहा है कि उसका अनुमान है कि इजरायल के हमले के बीच करीब 10,000 फिलिस्तीनी गाजा में अपना घर छोड़कर पलायन कर गए हैं, क्योंकि एन्क्लेव पर इजरायल के हमलों से मरने वालों की तादाद 137 तक पहुँच गई है।अलजजीरा को बताते हुए अबेद्राबू अल-अत्र ने इजरायली सैनिकों द्वारा गाजा के बंकरों को तबाह करने का खौफनाक मंजर बयां किया। 

उन्होंने कहा कि, “हमें लगा, हम सब लोग मर जाएँगे। इजरायल ने सब कुछ पर बम बरसाए, वो भी लगातार। हमास का एक भी लड़ाका पूरे इलाके में कहीं नहीं था। मैंने कई सारी लड़ाइयाँ देखी हैं, किन्तु यह एकदम निर्मम है।” हालाँकि इजरायली सेना के एक प्रवक्ता जोनाथन कॉनरिकस ने इसका खंडन करते हुए कहा हमला केवल बंकरों को तबाह करने के लिए था, किसी आम नागरिक को मारने के लिए नहीं। इस खूनी संघर्ष को खत्म करने के लिए संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस समेत कई अंतरराष्ट्रीय कॉल के बाद भी इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू हमास के हमलों का जवाब दे रहे हैं। 

अमेरिका में अब मास्क की अनिवार्यता ख़त्म, इस दिग्गज कंपनी ने किया बड़ा ऐलान

बढ़ते कोविड -19 मामलों के बीच चीन ने 487 इनबाउंड उड़ानों पर लगाया प्रतिबंध

कोरोना वैक्सीन को लेकर WHO का बड़ा बयान, कहा- "बच्चों को वैक्सीन लगाने के स्थान पर गरीब देशों...."

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -