जाधव के परिवार के साथ बर्ताव पर पाक का बचाव

इस्लामाबाद: पाकिस्तानी जेल में बंद कुलभूषण जाधव की पत्नी और मां के साथ मुलाकात के दौरान किए गए बर्ताव का बचाव करते हुए इसे पाकिस्तान ने सुरक्षा के लिए सही ठहराया है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा अहमद आसिफ ने भारत के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि 25 दिसंबर को पत्नी और मां से जाधव की मुलाकात मानवता के आधार पर कराई गई थी. आसिफ ने कहा कि पहले तो मुलाकात का वक्त 30 मिनट ही तय था, लेकिन अनुरोध पर इसे बढ़ाकर 40 मिनट किया गया. 

बता दे कि कल पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्टों में कहा गया था कि पाकिस्तानी अधिकारियों ने जाधव की पत्नी के जूते को फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया है. पाक ने उनके जूते में किसी धातु की वस्तु होने की आशंका जाहिर की थी. पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल के हवाले से कहा गया था कि अधिकारियों को पता लगाना था कि जूते में मौजूद ‘धातु की वस्तु’ में कोई कैमरा या रिकॉर्डिंग चिप तो नहीं थी.

विदेश मंत्री ने कहा कि मुलाकात के बाद जाधव की मां और पत्नी ने अपने पहले वाले कपड़े पहन लिए और उनके रवाना होने से पहले उनका सारा सामान उन्हें वापस कर दिया गया.  हालांकि, जाधव की पत्नी के जूते रख लिए गए, क्योंकि उनमें से एक में ‘धात्विक चिप’ होने के कारण वे सुरक्षा जांच में खरे नहीं उतर सके. उन्होंने कहा कि उनके जूतों की जांच हो रही है.

पाक में हुए बुरे बर्ताव से तनाव में हैं जाधव का परिवार

पाक करवा रहा जाधव की पत्नी की जूतियों की फोरेंसिक जांच

PAK की बेअदबी की हद, जाधव की मां-पत्नी को विधवा की तरह मिलाया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -