भारत के साथ पाकिस्तान भी हुआ नीरज चोपड़ा का मुरीद, बोले- नीरज वास्तव में इसके हक़दार थे...

टोक्यो ओलंपिक में नीरज चोपड़ा के स्वर्ण जीतने के पश्चात् जहाँ भारत में जश्न का माहौल है, वहीं पाकिस्तान से भी उन्हें शुभकामना संदेश आ रहे हैं। इसी जैवलिन थ्रो मुकाबले के फ़ाइनल में पाकिस्तान की ओर से उतरे अरशद नदीम भी थे मगर मेडल जीतने में सफल रहे। बताया जा रहा है कि अरशद नदीम नीरज चोपड़ा को ही अपनी प्रेरणा मानते हैं। मैच से पूर्व अरशद नदीम के घर पर बड़े आंकड़े में इस स्पर्धा को देखने के लिए व्यक्ति उपस्थित थे। उनके गाँव में इस स्पर्धा को देखने के लिए स्थान-स्थान व्यवस्था की गई थी।

वही मैच के समय लोग दुआएं करते देखे गए। हालांकि इस स्पर्धा के पश्चात् लोगों में उदासी थी। बीबीसी उर्दू ने अरशद के पिता से चर्चा की तो उन्होंने कहा, यदि अरशद तुर्की नहीं गए होते तथा उन्हें कोरोना नहीं हुआ होता तो निश्चित ही वे सभी को पीछे छोड़ देते। गाँव वाले बोलते हैं कि अरशद भले ही ओलंपिक में पदक नहीं जीते मगर उन्होंने बिना किसी साधन के लिए उनका फ़ाइनल में पहुँचना ही हमारे लिए बेहद बड़ी कामयाबी है।

पाकिस्तान के रिपोर्टर शिराज हसन ने नीरज चोपड़ा को लेकर लिखा है, "नीरज चोपड़ा अद्भुत एथलीट हैं। स्वर्ण पदक के लिए बधाई। वह वास्तव में इसके हक़दार थे। बेहद जबरदस्त। अब हम जान गए हैं कि अरशद नदीम आपको अपना हीरो क्यों बोलते हैं।" एक उपयोगकर्ता ने आंसू के इमोज़ी के साथ ट्वीट किया कि ये ख़ुशी के आंसू हैं। वे लिखते हैं, "भारत के इतिहास में प्रथम बार ओलंपिक ट्रैक ऐंड फील्ड इवेंट में स्वर्ण पदक प्राप्त हुआ है। नीरज चोपड़ा आप स्टार हैं। पाकिस्तान से प्यार एवं शुभकामनाएं। आपने कर दिखाया।"

टीम यूएसए ने फ्रांस को इतने 87-82 से दी मात

1860 दिन वर्ल्ड नंबर 1 रह चुके हैं रोजर फेडरर, विराट इन्हे मानते हैं 'असली लीजेंड'

केन्या के एलियुड किपचोगे ने सफलतापूर्वक ओलंपिक मैराथन खिताब रखा बरक़रार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -