गलती से आठ वर्षीय बच्ची से उड़ गया तोता, तो मालिकों ने कर दी जमकर पिटाई

दुनिया में एक तरफ कोरोना कहर बरपा रहा तो वहीं लोगों की इंसानियत को पता नहीं क्या हो गया है. हाल ही में पाकिस्तान से एक दिलदहला देने वाली खबर सामने आई है. यहां एक 8 साल की डोमेस्टिक वर्कर यानी घर में काम करने वाली बच्ची को उसके मालिकों ने बुरी तरह से पीटा. इतनी बुरी तरह से कि उसे अस्पताल में दाखिल करवाना पड़ा. खबरों के अनुसार, उन्होंने मासूम बच्ची को इसलिए पीटा क्योंकि उसने उनके घर के पालतू तोते का पिंजरा साफ करने समय उसे बाहर निकाल दिया था.

खबर के मुताबिक, इस लड़की का नाम जाहरा है और वो रावलपिंडी में एक कपल के घर काम करती थी. उन्होंने जाहरा की इतनी पिटाई की कि उसे नजदीकी अस्पताल दाखिल करवाना पड़ा. पुलिस ने फिलहाल कपल को हिरासत में ले लिया है, जिन्होंने जाहरा की पिटाई की है. पुलिस के मुताबिक, उनका कहना है कि तोता महंगा था और वो उड़ गया था जिसके वजह से उन्होंने जाहरा की बुरी तरह से पिटाई की. जाहरा एक तो इस कपल के घर का सारा काम करती थी. साथ ही साथ उनके एक वर्षीय बच्चे का भी ख्याल रखती थी. जाहरा के रिश्तेदारों ने बताया कि उन्होंने वादा किया था कि वे जाहरा का ध्यान रखेंगे और उसे आगे की पढ़ाई भी करवाएंगे. लेकिन ऐसा नहीं हुआ बल्कि उन्होंने जाहरा की एक तोते के लिए बुरी तरह से पिटाई कर दी.

बता दें की यह बात सामने आई है कि जाहरा के चेहरे, हाथ, पैर और पस्लियों पर कई गहरे घाव हैं. जिनका फिलहाल ट्रीटमेंट चल रहा है. हालांकि पाकिस्तान के कई नेताओं ने भी इस घरेलू हिंसा का विरोध किया है. पाकिस्तान में बीते कुछ वर्षों से घरेलू हिंसा के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. साल 2016 में एक जज के घर से 10 वर्षीय बच्चे को रेस्क्यू किया गया था. पड़ोसियों ने यह दावा किया था कि जज साहब इस बच्चे को टॉर्चर करते थे और उसकी खूब पिटाई भी करते थे.

गुजरात राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को झटका, दो MLA ने दिया इस्तीफा

जब एक तरबूज की वजह से मारे गए थे हजारों सैनिक

इस वजह से बारिश के बाद आसमान में नजर आता है इंद्रधनुष

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -