मोदी-जिनपिंग की मुलाकात के बीच पाकिस्तान उठाएगा बड़ा कदम, करेगा मिसाइल परिक्षण

मोदी-जिनपिंग की मुलाकात के बीच पाकिस्तान उठाएगा बड़ा कदम, करेगा मिसाइल परिक्षण

नई दिल्‍ली: सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग की दो दिवसीय भारत यात्रा के दौरान पाकिस्‍तान एक बड़ा कदम उठाने वाला है। खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, आज जब चीनी राष्‍ट्रपति जिनपिंग और पीएम नरेंद्र मोदी महाबलीपुरम में मिल रहे होंगे, उसी समय पाकिस्‍तान एक बड़ा मिसाइल टेस्‍ट करने की फ़िराक़ में है। वह कराची पोर्ट के पास यह मिसाइल परिक्षण करने वाला है।

इंटेलिजेंस एजेंसियों ने बताया है कि पाकिस्तान इस परीक्षण को सोनमियानी परीक्षण रेंज में करने का प्लान बना रहा है, जोकि पाक के दक्षिणी बंदरगाह शहर कराची से 40 किमी उत्तर पश्चिम में स्थित है। इससे पहले गत अगस्‍त महीने में पाकिस्तान ने सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल-गजनवी का सफल परीक्षण किया था। इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (ISPR) ने स्वयं इस बात की पुष्टि की थी। इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्विट करते हुए कहा था कि, "पाकिस्तान ने बैलिस्टिक मिसाइल गजनवी को सतह से सतह पर नाइट ट्रेनिंग लॉन्च करने का सफल परीक्षण किया है।"

आपको बता दें कि यह मिसाइल 290 किमी तक कई किस्म के वॉरहेड (हथियार) ले जाने में सक्षम है। पाकिस्तानी आर्मी सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन-2 का मई में ट्रेनिंग लॉन्च परीक्षण करने में कामयाब रही थी। शाहीन-2 पारंपपरिक और परमाणु दोनों ही प्रकार के हथियार 1500 किलोमीटर की रेंज तक ले जाने में समर्थ है।

चेन्नई पहुंचे शी जिनपिंग, शाम 5 बजे पीएम मोदी से करेंगे मुलाकात

बुलंदशहर हादसा: सीएम योगी ने जताया शोक, किया 2 लाख रुपए के मुआवज़े का ऐलान

महाराष्ट्र के चुनावी अभियान में अमित शाह का प्रहार, कहा- कांग्रेस और NCP का संस्कार है 'भ्रष्टाचार'