आतंकवादियों का पनाह गाह न बने पाकिस्तान- अमेरिका

अमेरिकी: अमेरिकी राष्ट्रपति की सहायक एवं दक्षिण-मध्य एशिया की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की वरिष्ठ निदेशक लीजा कर्टिस ने पाकिस्तान में आतंकवाद को आडे हाथो लेकर कहा कि अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया तेज करने के लिए पाकिस्तान की निर्णायक भूमिका होना जरूरी है. लीजा कर्टिस ने कहा कि पाकिस्तान की यह नैतिक जिम्मेदारी है कि वह अपने क्षेत्र का उपयोग अफगान तालिबान और हक्कानी नेटवर्क जैसे आतंकी संगठनों के लिए होने से रोके.

उन्होंने कहा, ‘‘हक्कानी नेटवर्क सहित अफगान तालिबान को पाकिस्तान में पिछले 16 सालों से सुरक्षित ठिकाने मिले हुए हैं. लीजा ने कहा कि अमेरिका ने पाकिस्तान से अफगानिस्तान में शांति बहाल करने में सहायता देने के लिए कहा था और उन्होंने कहा पाकिस्तान की यह नैतिक जिम्मेदारी है कि वह अपने क्षेत्र का इस्तेमाल इन आतंकी संगठनों द्वारा न होने दें और इन पर रोक लगाए.

राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की वरिष्ठ निदेशक लीजा कर्टिस यूएस इंस्टीट्यूट ऑफ पीस की ओर से आयोजित ‘द लॉन्ग सर्च फॉर पीस’ विषय पर बोल रही थीं. इससे पहले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने गुरुवार को कहा था कि पाकिस्तानी सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा से बिना किसी भेदभाव के आतंकवादी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा. दोनों देशों द्वारा एक-दूसरे के राजनयिकों पर यात्रा प्रतिबंध लगाए जाने के बाद से दोनों पक्षों के बीच पहली बार इस स्तर की बैठक हुई थी.

कैटरीना की Gym Buddy बनी जान्हवी कपूर, वर्कआउट के वजह किया ये काम

उत्तर कोरिया ने यह ख्वाहिश अमेरिका से सांझा की

वोडका पीने के बाद यात्री ने छेड़ा महिला को और सीट पर कर दी सुसु

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -