पाकिस्तान द्वारा भेजे गए बीफ मसालों का नेपाल में विरोध

May 01 2015 10:32 AM
पाकिस्तान द्वारा भेजे गए बीफ मसालों का नेपाल में विरोध

नेपाल/काठमांडू : नेपाल में भूकंप आ जाने के बाद से ही दुनियाभर से मदद के हाथ नेपाल की ओर उठे हैं। पाकिस्तान द्वारा भी राहत सामग्री नेपाल भेजी गई है लेकिन इस राहत सामग्री के साथ बीफ मसाला अर्थात् गौ मांस के लिए उपयोग होने वाला मसाला भी भेजा गया है। एक हिंदू राष्ट्र में इस तरह के पैकेट भेजे जाने के बाद हर ओर बवाल मच गया है।

मिली जानकारी के अनुसार हाल ही में पाकिस्तान द्वारा भेजी गई राहत सामग्री पर विश्व स्तर पर बवाल मच गया है। पाकिस्तान ने अपनी ओर से नेपाल भेजी गई राहत सामग्री में बीफ मसाले के पैकेट भेजे थे। जब नेपाल में राहत कार्य में लगे कुछ चिकित्सक इस राहत सामग्री को लेने पहुंचे तो बीफ मसाला उनके हाथ लगने के बाद वे आश्चर्य में पड़ गए।

उन्होंने उस राहत सामग्री को वापस लौटा दिया और रेस्टोरेंट में भोजन किया। उल्लेखनीय है कि हिंदूओं में गाय और अन्य मवेशी बेहद पवित्र होते हैं। दीपावली के अंतर्गत आने वाले वसुबारस और अन्य अवसरों पर पशुधन का पूजन किया जाता है। हिंदू राष्ट्र नेपाल में भी मवेशियों को पवित्र माना जाता है। ऐसे में गाय का मांस खाना वर्जित है।

मगर पाकिस्तान द्वारा बीफ मसाले के पैकेट भेजे जाने को नेपाल की भावनाऐं आहत करने वाला कदम माना जा रहा है। दूसरी ओर पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय इस तरह के पैकेट्स भेजे जाने से पल्ला झाड़ चुका है। विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया कि राहत सामग्री भेजेने का कार्य तो राष्ट्रीय आपदा नियंत्रण प्राधिकरण करता है।

जबरन तूल दे रहा भारतीय मीडिया

पाकिस्तान के विदेशी मंत्री की प्रवक्ता द्वारा कहा गया कि भारतीय मीडिया इस मामले को जबरद तूल दे रहा है। हालांकि उन्होंने भोजन के पैकेट में बीफ की मौजूदगी से इंकान नहीं किया। उनका कहना था कि तैयार खाने के पैकेट में पहले से ही किट तैयार करके रखी गई है। जिसमें बीस चीजें शामिल हैं। इसमें उर्दू और अंग्रेजी में भी सभी पदार्थों का नाम लिखा है। जिससे लोग  अपनी पसंद का खाना खा सकें। नेपाल के अधिकारियों ने पाकिस्तान से एक विमानभर कर भोजन के पैकेट भेजने की मांग भी की है।