पाकिस्तान में भी उठी नोटबंदी की मांग

इस्लामाबाद :  पाकिस्तान में भी अब एक  हजार  और पांच हजार रूपये की नोटबंदी के लिये मांग उठने लगी है। इसके लिये संसद में प्रस्ताव दिया गया है, लेकिन अभी संसद ने इस मामले में विचार करने की ही बात कही है। बताया गया है कि पाकिस्तान में मौजूदा एक हजार और पांच हजार रूपये के नोटों को चलन से बाहर करने के लिये पीपीपी के सीनेटर उस्मान सैफुल्ला खान ने संसद में प्रस्ताव दिया है।

मोदी की तारीफ

पाकिस्तानी संसद में नोटबंदी की मांग के साथ ही खान ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कदम की तारीफ की है। खान ने कहा है कि जिस तरह से मोदी ने भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिये भारत में पांच सौ और एक हजार रूपये के नोटों को चलन से बंद किया है उसी तरह पाकिस्तान में भी व्याप्त भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिये बड़े नोटों को बंद करने की जरूरत है।

खान ने पाकिस्तान की नवाज सरकार से मोदी से सीखने के लिये नसीहत भी दी है। बताया गया है कि खान के इस प्रस्ताव के पहले भी संसद ने कालाधन पर लगाम कसने के लिये कदम उठाने की मांग सरकार से की है।

ट्रंप को लेकर पाकिस्तान सहित विश्व मीडिया में मची खलबली

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -