अब सिखों को लुभाने की कोशिश में पाकिस्तान, करतारपुर कॉरिडोर को लेकर दिया ये बयान

Aug 25 2019 03:41 PM
अब सिखों को लुभाने की कोशिश में पाकिस्तान, करतारपुर कॉरिडोर को लेकर दिया ये बयान

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की वरिष्ठ सहयोगी का कहना है कि पाकिस्तान भारत के साथ तनाव के बाद भी सिख तीर्थयात्रियों के लिए करतारपुर गलियारे का काम पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने रविवार को ये बात कही। पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर पर 'जीरो लाइन' से गुरद्वारा साहिब तक 90 प्रतिशत काम पूरा कर लिया है और इस वर्ष नवंबर में गुरु नानक की 550वीं जयंती के अवसर पर इसका उद्घाटन किए जाने की योजना है।

यह कॉरिडोर पाकिस्तान के करतारपुर स्थित दरबार साहिब को पंजाब के गुरदासपुर जिले स्थित डेरा बाबा नानक गुरुद्वारे से जोड़ेगा। इससे भारतीय सिख तीर्थयात्रियों को वीजा मुक्त आवागमन की सुविधा मिलेगी। इन श्रद्धालुओं को करतारपुर साहिब जाने के लिए मात्र एक 'परमिट' प्राप्त करना होगा। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भारत से श्रद्धालुओं का पहला जत्था नौ नवंबर को पाकिस्तान पहुंचेगा। 

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की विशेष सहायिका फिरदौस आशिक अवान ने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए कहा कि करतारपुर सिखों के लिए एक पवित्र और आस्था से जुड़ा स्थान है और यह अंतरजातीय सद्भाव का आदर्श उदाहरण है। उन्होंने उन खबरों को खारिज कर दिया, जिनमें दावा किया गया है कि भारत के साथ संबंधों में ताजा तनाव की वजह से पाकिस्तान ने गलियारे के काम को रोक दिया है।

बहरीन ने माफ़ की 250 भारतीय कैदियों की सजा, पीएम मोदी ने जताया आभार

हांगकांग में दो लाख लोगों ने बनाई 45 किमी लंबी मानव श्रृंखला, चीन के खिलाफ जताया विरोध

गूगल ने जारी किया नया फरमान, दफ्तर में ना करें सियासी बातें, वरना जा सकती है नौकरी