FIR में मसूद अजहर का नाम न होने से निराश है भारत

Feb 20 2016 11:37 AM
FIR में मसूद अजहर का नाम न होने से निराश है भारत

नई दिल्ली : जनवरी की शुरुआत में पठानकोट में हुए आतंकी हमले के महीनों बाद पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ने आदेश दिए कि 6 आतंकियों के खिलवाफ एफआईआर दर्ज की जाए, लेकिन इस बात से भारत निराश है, क्यों कि इस एफआईआर में जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर का नाम नहीं है।

एक सीनियर गवर्नमेंट ऑफिसर ने कहा कि सही दिशा में यह एक छोटा सा कदम है, लेकिन यह निराशजनक है कि एफआईआर में न तो जैश का और न ही मसूद अजहर का नाम है। बता दें कि 2 जनवरी को पठानकोट में हुए हमलों के महीनों बाद पाकिस्तान ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी।

अधिकारी ने कहा कि हमें यह समझ में नहीं आ रहा है कि एफआईआर में जैश या मसूद का नाम क्यों नही है जब कि भारत ने पाकिस्तान को पर्याप्त सबूत भी उपलब्ध कराए है। भारत ने मसूद के साथ उसके भाई व 5 अन्य को भी हमले के लिए जिम्मेदार ठहराया था।