'देश चलाने के लिए पैसे नहीं..' के बाद PAK पीएम इमरान खान का एक और बड़ा कबूलनामा

इस्लामाबाद: तेजी से गरीबी के गर्त में जा रहे पाकिस्तान के हालात इन दिनों काफी बिगड़ गए हैं. ना सरकार के पास देश चलाने के लिए पैसा बचा है और ना ही वहां कानून का राज है. ये दोनों ही बातें देश के पीएम इमरान खान (Imran Khan) ने खुद कबूल की हैं. इमरान ने कहा है कि पाकिस्तान के संसाधनों पर कुछ खास लोगों ने कब्जा कर दिया है.

इमरान खान ने कहा कि देश का विकास नहीं होने की मुख्य वजह कानून के शासन की अनुपस्थिति है. इमरान ने ये बातें अमेरिकी मुस्लिम स्कॉलर शेख हमजा यूसुफ के साथ एक ऑनलाइन साक्षात्कार में कही हैं. वह कैलिफोर्निया के जैतूना कॉलेज के चीफ हैं. पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, पाकिस्तान टेलीविजन पर टेलीकास्ट हुए इस साक्षात्कार में इमरान खान ने कहा है कि, ‘समस्या ये है कि कुलीन वर्ग ने संसाधनों पर कब्जा कर लिया है, जिसने बड़ी आबादी को उचित स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा और इंसाफ से वंचित कर दिया है, कानून का शासन न होने से पाकिस्तान उस ऊंचाई पर नहीं पहुंच सका है, जहां उसे होना चाहिए था.’

पाक पीएम इमरान खान ने आगे कहा कि कोई भी समाज तब तक अपनी क्षमता को प्राप्त नहीं कर सकता, जब तक कानून का राज ना हो और विकासशील देशों में सबसे बड़ी दिक्कत यही है कि अमीरों और गरीबों के लिए अलग-अलग कानून हैं. इमरान ने कहा कि वह पैगंबर मोहम्मद द्वारा मदीना राज्य की अवधारणा के आधार पर पाकिस्तान को एक इस्लामी कल्याणकारी मुल्क बनाना चाहते हैं.

फ्रांस का ब्रिटेन पर आरोप

अमेरिकी रक्षा मंत्री इस सप्ताह साउथ कोरिया जाएंगे

भारत की पोलैंड पर शानदार जीत, इन खिलाड़ियों ने मुकाबले में किया कमाल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -