कश्मीर मुद्दे पर पूरी दुनिया में नाक कटा चुके इमरान खान, क्या अब फिर से तख्तापलट देखेगा पाकिस्तान ?

Aug 19 2019 02:21 PM
कश्मीर मुद्दे पर पूरी दुनिया में नाक कटा चुके इमरान खान, क्या अब फिर से तख्तापलट देखेगा पाकिस्तान ?

इस्लामाबाद: आतंकवाद पर अंकुश लगाने के लिए पाकिस्तान पर चौतरफा वैश्विक दबाव है, किन्तु पाकिस्तानी सेना अपनी हरकतें छोड़ने के लिए राजी नहीं है। वर्तमान समय में भी जम्मू-कश्मीर में एलओसी के पार से पाकिस्तानी सेना लगातार घुसपैठ करवाने के प्रयासों में जुटी हुई है। पाकिस्तानी आर्मी की यह हरकत पाक पीएम इमरान खान के हालिया रवैए के ठीक उलट है, जो वो दुनिया को घूम-घूम कर बता रहे हैं। इमरान खान कह रहे हैं कि उनकी सरकार आतंकवाद को मिटाने के लिए लगातार कोशिश कर रही है। हालात ऐसे बन चुके हैं कि जिहादी संगठनों को समर्थन देने और उनसे दूरी बनाने की इसी नीति के कारण पाकिस्तान में सेना और सरकार में अनबन शुरू होती दिखाई दे रही है। बताया जा रहा है कि इमरान के हालिया बयानों को लेकर वहां की सेना उनसे काफी नाराज है और पाकिस्तान के इतिहास को देखते हुए कुछ भी कह पाना मुश्किल है।

लगभग दो वर्ष पूर्व 2017 के अक्टूबर में पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने पाकिस्तानी सेना का इरादा जता दिया था कि वह सैन्य बलों को मुख्यधारा की सियासत में लाने की योजना पर काम कर रही है। एक यूरोपियन थिंक-टैंक ईएफएसएएस के अनुसार पाकिस्तानी सेना का मुख्य लक्ष्य आतंकवादियों और आतंकवादी संगठनों को पाकिस्तान में मुख्यधारा की सियासत से जोड़ना है। खुद गफूर इस रणनीति को 'आतंकियों के लिए सकारात्मक रोल' बता चुके हैं। पाक सेना किस तरह आतंकियों को संरक्षण दे सकती है, ओसामा बिन लादेन इसका सबसे बड़ा उदाहरण है, जो 10 वर्ष तक पाकिस्तान में छिपा बैठा रहा और पाकिस्तान हमेशा इस बात से इनकार करता रहा। 

भारत में आतंक फैलाने के लिए ही बने संगठन जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा को खुलेआम पाकिस्तानी सेना का संरक्षण मिला हुआ है। पुलवामा हमले के बाद वैश्विक बिरादरी की आंख पर चढ़े जैश सरगना मौलाना मसूद अजहर को बचाने के लिए पाकिस्तानी सेना और आईएसआई ने कैसी सक्रियता दिखाई थी, यह बात भी सबको पता है। यदि सीधे शब्दों में कहा जाए तो पाकिस्तानी सेना और पाकिस्तान में मौजूद आतंकी संगठन एक ही सिक्के के दो पहलू हैं और अब यह बात जगजाहिर हो चुकी है। पाकिस्तानी सेना का एक और इतिहास रहा है कि जो भी सरकार उसकी मर्जी से नहीं चलती है तो वह उसका तख्तापलट कर देती है, इसलिए अब इमरान खान की उल्टी गिनती के कयास लगाए जा रहे हैं।

World Photography Day पर जानें फोटोज को एडिट करने वाली 5 बेहतरीन Apps के बारे में

भगोड़े इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक पर मलेशिया सरकार ने कसा शिकंजा, धार्मिक उन्माद भड़काने का आरोप

वर्ल्ड फोटोग्राफी डे: वो पांच तस्वीरें, जिनको देखकर हिल गई थी दुनिया