'चीन नहीं, कोरोना फैलाने के लिए भारत जिम्मेदार'.., पढ़िए फवाद चौधरी का बेतुका बयान

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के संघीय सूचना एवं प्रसारण राज्यमंत्री फवाद चौधरी ने उनके देश और विश्व में कोरोना वायरस के प्रसार के लिए भारत को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि विश्व कोरोना वायरस महामारी पर जीत हासिल करने ही वाला था, किन्तु भारत सरकार की ढुलमुल नीतियों ने दुनिया को वापस संकट में डाल दिया है।

फवाद चौधरी ने आगे कहा कि, 'इसमें कोई संदेह नहीं है कि पाकिस्तान में दुबारा कोरोना वायरस काफी तेजी से फ़ैल रहा है। इस क्षेत्र का दुर्भाग्य है कि भारत की नरेंद्र मोदी सरकार को कोरोना वायरस से बचाव के लिए जो इंतजाम करने चाहिए थे, उन्होंने नहीं किए गए। जिसके चलते पूरी दुनिया में हिंदुस्तान कोरोना वायरस का अब एक सोर्स बन चुका है। ये जो कोरोना वायरस की चौथी लहर आई है, ये हिंदुस्तान से उठी है।' उन्होंने डेल्टा वैरिएंट को इंडियन कोरोना वायरस करार देते हुए कहा कि, 'इसका जो सबसे बड़ा कारण है, वो ये है कि जो हिंदुस्तान की हुकुमत है वो बदकिस्तमती से इंताजामात ऐसे नहीं कर सकी, जिससे कि ये कम होता हो। और उस समय जब हम बिल्कुल फतह के नजदीक थे, इंसान कोरोना वायरस पर कामयाबी पाकर उससे बाहर आ रहा था, उस समय हिंदुस्तान की हुकुमत की इंतेहाई गैर-जिम्मेदाराना नीतियों के कारण पूरी दुनिया दोबारा डेल्टा वायरस की शिकार हो गई है और इसके चलते दुनिया को दोबारा मुश्किलात का सामना करना पड़ रहा है।”

हालांकि, इसमें मजे की बात यह है कि पाकिस्तान ने अब तक चीन को कोरोना वायरस के प्रसार के लिए जिम्मेदार नहीं माना है। पूरी दुनिया कह रही है कि चीन के वुहान लैब से कोरोना पैदा हुआ और इसका पहला मामला भी वूहान से ही सामने आया था। इसके बाद भी पाकिस्तान यह वायरस के प्रसार के लिए भारत पर दोष मढ़ रहा है और इसके डेल्टा वैरिएंट को इंडियन वैरिएंट बता रहा है।

नैरोबी-पूर्वी अफ्रीका में पूरा हुआ कला दृश्य का केंद्र

कंधार एयरपोर्ट पर हुआ भयंकर रॉकेट हमला, और ज्यादा बिगड़े अफगानिस्तान के हालात

अफगानिस्तान संकट पर चर्चा के लिए पाकिस्तान, चीन, रूस और अमेरिका के बीच होगी मुलाकात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -