कश्मीर से सेना हटाने की पाकिस्तान की मांग को भारत ने किया दरकिनार

Oct 05 2015 10:50 AM
कश्मीर से सेना हटाने की पाकिस्तान की मांग को भारत ने किया दरकिनार

आणंद : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के कश्मीर से सेना को हटाए जाने और सियाचिन से सुरक्षाबलों को कम किए जाने को लेकर भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर द्वारा कहा गया कि वे इन बातों की अनदेखी करना ही पसंद करते हैं। इस दौरान खेड़ा जिले के वडतल गांव में पत्रकारों को संबोधित करते हुए पर्रिकर द्वारा कहा गया कि वे दूसरों से ही सुनते हैं कि आखिर उन्हें देश में क्या करना है। कोई भी हमारे देश के बारे में कुछ कर रहा है तो मैं उसकी अनदेखी करना ही पसंद करता हूँ। मिली जानकारी के अनुसार संयुक्त राष्ट्र महासभा में शरीफ के भाषण को लेकर सवाल किए गए और कहा गया कि 30 सितंबर को दिए गए भाषण में भारत द्वारा 4 सूत्रीय शांतिवार्ता का प्रस्ताव किया गया।

इस दौरान कहा गया कि कश्मीर से सेना को हटाने के प्रस्ताव पर शांतिवार्ता में ही चर्चा की जाना थी। पर्रिकर द्वारा यह भी कहा गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों की शुरूआत की गई। यही नहीं मेक इन इंडिया एक बड़ा और प्रमुख कार्यक्रम है।

मेक इन इंडिया में रक्षा क्षेत्र में 20 लाख लोगों को रोजगार दिया जाएगा। दूसरी ओर दो से तीन दिनों में ही इस पर कुछ और कार्य किया जाएगा। मिली जानकारी के अनुसार यह भी कहा गया कि ओबीसी आरक्षण को लेकर चर्चा की जा रही है। पटेलों के आंदोलन को लेकर किसी तरह की टिप्पणी करने से ही इंकार कर दिया गया। इस मसले पर इतना ही कहा गया कि राज्य सरकार इसे सुलझाने में समर्थ है।